पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bhilwara
  • Among The Departments, Reekay And DIC Laggards, Hamirgarh SDM Made 181 Cases And Gulabpura Made The Highest Number Of 1505 Cases.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिला रैंकिंग:विभागों में रीकाे व डीआईसी फिसड्डी, हमीरगढ़ एसडीएम ने 181 और गुलाबपुरा ने सबसे ज्यादा 1505 केस बनाए

भीलवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • राजस्थान महामारी अध्यादेश 2020 के तहत कार्रवाई की जिला प्रशासन ने जारी की रैंकिंग
  • नगर पालिकाओं में मांडलगढ़ सबसे पीछे, शाहपुरा पहले स्थान पर

राजस्थान महामारी अध्यादेश 2020 के तहत काेराेना संक्रमण काे राेकने के लिए कार्रवाई करने में रीकाे व जिला उद्याेग केंद्र सबसे फिसड्डी रहे हैं। जिला प्रशासन की ओर से जारी रैंकिंग के अनुसार रीकाे ने अब तक महज एक और जिला उद्याेग केंद्र ने पांच केस बनाए हैं। उपखंड में सबसे अच्छी परफोरमेंस गुलाबपुरा एसडीएम की रही हैं।

उन्हाेंने सबसे ज्यादा 1505 केस बनाकर 2.41 लाख रुपए का जुर्माना वसूला है। उपखंड में सबसे कम हमीरगढ़ एसडीएम की 181 कार्रवाई हैं। नगर पालिकाओं में मांडलगढ़ सबसे नीचने पायदान पर है और शाहपुरा पहले स्थान पर है। कलेक्टर शिवप्रसाद एम नकाते ने बताया कि अब तक जिले में अलग-अलग श्रेणी में 85 हजार 38 चालान बनाए हैं। इनमें 1 कराेड़ 19 लाख 88 हजार 400 रुपए का लाेगाें से जुर्माना वसूला है। कार्रवाई में फिसड्डी रहे विभागाें के अधिकारियाें काे अब कारण बताओ नाेटिस जारी करकेा की कार्रवाई की जाएगी।

नरेगा श्रमिकाें काे 6 महीने में 300 कराेड़ का भुगतान संदेह के घेरे में, केंद्रीय टीम आएगी जांच करने, लाॅकडाउन और इसके बाद हुए काम की हाेगी जांच

काेराेना वायरस के संक्रमण के कारण लगे लाॅकडाउन और लाॅकडाउन खुलने के छह महीने में जिले में नरेगा श्रमिकाें काे करीब 300 कराेड़ रुपए की मजदूरी का भुगतान किया है। छह महीने में इतनी बड़ी राशि का भुगतान अब संदेह के घेरे में आ गया है। यह जानकारी जब केंद्र सरकार के पास पहुंची और इसके बारे में उच्च अधिकारियाें में आपस में चर्चा हुई ताे इस मामले की जांच करने का निर्णय लिया है। इसके लिए केंद्रीय समिति जल्द ही जिले में जांच के लिए आ सकती है। जानकार सूत्राें के अनुसार प्रारंभिक रूप से ऐसे संकेत मिले हैं। उच्च अधिकारी यह जानना चाहते हैं कि क्या इतनी बड़ी राशि का वास्तव में श्रमिकाें काे भुगतान

किया या फिर नीचले स्तर पर बड़े पैमाने पर भुगतान में हेराफेरी की गई। सूत्राें का कहना है कि लाॅकडाउन अवधि में जिले में प्रदेश में सबसे ज्यादा श्रमिकाें काे काम देने के मामले में जिला परिषद के अधिकारियाें ने खूब वाही-वाही लूटी थी, लेकिन अब उनकाे जांच का सामना करना पड़ेगा। जब एक साथ 300 कराेड़ रुपए से अधिक राशि का भुगतान करने की जानकारी उच्च अधिकारियाें के पास पहुंची ताे एक बार उनकाे भी विश्वास नहीं हुअा। उन्हाेंने अपने स्तर पर जिले से फीडबैक लिया और इसके बाद इसकी जांच कराने का निर्णय लिया।

किस श्रेणी की कार्रवाई में कितने केस बनाए अाैर कितना जुर्माना वसूला निकायों व अन्य सरकारी एजेंसियों ने
कार्रवाई की श्रेणी केस जुर्माना (रु.)
सार्वजनिक स्थान पर मास्क नहीं पहनना 26983 5396600
दुकानदार द्वारा बिना मास्क पहने सामान देना 1478 739000
सार्वजनिक स्थान पर थूकना 24 4800
सार्वजनिक स्थान पर शराब पीना 05 2500
गुटखा, तंबाकु विक्रय करना 18 18000
सार्वजनिक स्थान पर साेशल डिस्टेंसिंग नहीं 55638 5608300
बिना अनुमति विवाह, समाराेह करना 06 30000
विवाह में 50 से अधिक व्यक्ति अाना 03 30000
क्वारेंटाइन की शर्तें ताेड़ना 16 16000
लाेक परिवहन में मास्क नहीं पहनना 416 83200
कार्यस्थल पर साेशल डिस्टेंसिंग नहीं रखना 06 60000

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें