• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bhilwara
  • Chasing From Banas, Caught A Dumper Full Of Gravel In The Border Of Chittor, Miscreants Who Came In Luxury Vehicles Doing Ascot Surrounded The Trainee IPS, Took Away The Dumper

IPS को घेरकर बजरी माफिया छुड़ा ले गया डंपर:लग्जरी गाड़ियों मे आए खनन माफिया ने पुलिस जाप्ते को घेरा, फिर बजरी से भरा डंपर साथ ले गए; अलर्ट पर भीलवाड़ा की पुलिस

भीलवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने होटल में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने होटल में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले।

भीलवाड़ा से निकल रही बनास नदी में अवैध रूप से खनन करने वाले माफिया के हौसले बुलंद हो चुके हैं। बुधवार को जिले के हमीरगढ़ थाना इलाके में एक ऐसा ही मामला सामने आया। जहां अवैध रूप से बजरी खनन कर रहे बजरी माफिया के खिलाफ भीलवाड़ा सदर सीओ (सर्किल ऑफिसर) आईपीएस हरिशंकर यादव ने कार्रवाई की। इस कार्रवाई के दौरान एक डंपर मौके से भाग छूटा। हरिशंकर यादव इसका पीछा करते हुए चित्तौड़गढ़ के गंगरार थाना क्षेत्र में पहुंच गए। यहां डंपर को छुड़ाने के 3 से 4 लग्जरी कारों में आए माफिया ने उन्हें घेर लिया। फिर डंपर छुड़ा कर ले गए।

इस घटनाक्रम को लेकर आईपीएस ने गंगरार थाने में 7 लोगों के खिलाफ मामला भी दर्ज करवाया है। इन आरोपियों में से 5 हमीरगढ़ व 2 आरोपी गंगरार थाना क्षेत्र के निवासी है। इस सभी की तलाश की जा रही है। वहीं, पुलिस के अधिकारी पर इस तरह से हमला करने की कोशिश के बाद पुलिस ने खनन माफिया के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है।

भीलवाड़ा पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने बताया कि बुधवार सुबह भीलवाड़ा में तैनात प्रशिक्षु आईपीएस हरिशंकर यादव पुलिस जाब्ते के साथ हमीरगढ़ थाना क्षेत्र से निकल रही बनास नदी में अवैध बजरी खनन पर कार्रवाई करने गए थे। इस दौरान उन्होंने दो बजरी से भरे डंपर पकड़कर हमीरगढ़ थाने में भिजवाए। वहीं, मौके से एक बजरी से भरा डंपर फरार हो गया। प्रशिक्षु आईपीएस के साथ पुलिस जाब्ता उस डंपर का पीछा करते हुए चित्तौड़गढ़ के गंगरार थाना क्षेत्र की सीमा में पहुंच गए। जहां हाईवे पर तिरंगा होटल के पास उन्होंने डंपर को पकड़ लिया। उस पर कार्रवाई करने लगे। इस दौरान 3-4 लग्जरी गाड़ियों में भरकर कुछ लोग आए। उन्हें घेर लिया और मौके से डंपर लेकर फरार हो गए।

बदमाशों ने पुलिस जाब्ते का रास्ता रोकने के लिए डंपर को गाड़ियों के आगे लगाने की कोशिश भी की। इस घटनाक्रम में आईपीएस हरिशंकर यादव को किसी भी प्रकार की चोट नहीं आई है। उन्होंने 7 नामजद आरोपियों के गंगरार थाने में रिपोर्ट भी दे दी है।

जिलेभर में पुलिस अलर्ट, बजरी माफिया पर सख्त कार्रवाई

इस घटनाक्रम के बाद में पुलिस ने जिले भर में बजरी माफिया के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। पुलिस जिलेभर में जाब्ता तैनात कर दिया है। सभी बजरी माफिया के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। आईपीएस को घेरने वाले सभी आरोपियों की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है।

कई बार हो चुके है हमले

बजरी माफिया का पुलिस एवं खनन अधिकारियों पर हमले का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी कई बार बजरी माफियाओं ने हमला कर खनन विभाग के अधिकारियों एवं पुलिस से डंपर और ट्रैक्टर छुड़ाने की घटनाएं हो चुकी है। किसी आईपीएस को इस प्रकार से घेरकर डंपर छुड़ाने की भीलवाड़ा में यह पहली घटना है। इस घटना के बाद साफ तौर पर नजर आ रहा है कि बजरी माफिया में पुलिस का डर पूरी तरह से खत्म हो चुका।

बजरी माफिया पर सख्त कार्रवाई

इस घटना के बाद पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने बताया है कि जिन जिन क्षेत्रों में बजरी माफिया द्वारा अवैध खनन किया जा रहा है। वहां पुलिस को अलर्ट मोड पर कर दिया गया है। इन सभी बजरी माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। ताकि इस तरह की घटनाएं फिर से जिले में कभी ना हो।

खबरें और भी हैं...