घातक माेड़ हादसाें का कारण:हाईवे पर घातक माेड़, तीन साल में कई जान ले चुका यहां अक्सर हाेते हैं हादसे

भीलवाड़ा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राष्ट्रीय राजमार्ग 148-डी भीम-उनियारा पर जहाजपुर से शक्करगढ़ की तरफ घातक माेड़ हादसाें का कारण बना हुआ है। नागदी बांध सगस बाबा मंदिर के पास मोड़ इतना खतरनाक है कि तीन साल में कई जानें यहां जा चुकी हैं। छाेटी दुर्घटनाएं ताे अक्सर हाेती रहती हैं। पिछले दिनों ही कोटा से आती कार विकट मोड़ पर अनियंत्रित होकर 30 फीट ऊंचाई से बांध में गिर गई थी। इसके कुछ दिन बाद बाइक सवार को बचाते हुए अनियंत्रित ट्रेलर पलट चुका है। लाेगाें का कहना है कि एनएचएआई ऊंची सुरक्षा दीवार बनवा दे या दाेनाें तरफ चेतावनी का ही काेई संकेतक लगवा दे ताे हादसे काफी हद तक कम हाेंगे। दरअसल, पहाड़ी की ओट के कारण पता ही नहीं चल पाता है कि माेड़ कितनी लंबाई तक है? या फिर निर्माण के समय ही पहाड़ी की थाेड़ी और कटिंग हाेकर इसे सीधा भी बनाया जा सकता था।

चेतावनी बाेर्ड और गति नियंत्रक लगवाए जाएंगे
^मैं यहां पर नया हूं। मुझे पुराने प्रोजेक्ट के बारे में पूरी तकनीकी जानकारी नहीं है। प्रयास करेंगे कि वहां जनसुरक्षा की दृष्टि से चेतावनी बोर्ड एवं गति नियंत्रण के कुछ उपाय करवा दें।
-मनोज शर्मा, प्राेजेक्ट डायरेक्टर, एनएचएआई सवाईमाधोपुर

खबरें और भी हैं...