पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महिला कांग्रेस का प्रदर्शन:गैस व पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर प्रदर्शन, चूल्हे पर बनाया भोजन

भीलवाड़ा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चूल्हा और सिलेंडर पहले कचरे में फेंक दिया, जाते समय उठा भी लिया
  • प्रदर्शन में वाहनों को भी सफेद चद्दर ओढ़ाकर व माला पहनाकर सड़क पर खड़ा किया गया

सूचना केंद्र के यहां बुधवार को अलग ही नजारा देखने को मिला। यहां महिलाएं चूल्हे पर दाल बाटी और सिलबट्टे पर चटनी बना रही थी। देखने में एक बार यह किसी भोज के आयोजन की तरह लगता है लेकिन ऐसा नहीं है। बल्कि महिला कांग्रेस का मोदी सरकार के विरोध में प्रदर्शन है। केंद्र सरकार की ओर से बढ़ाई गई गैस कीमतों के कारण के कारण चूल्हे पर दाल बाटी और सिलबट्टे पर चटनी बना रहे थे। गैस का चूल्हा और सिलेंडर कूड़ेदान में फेंक रखे थे।

वहीं पेट्रोल डीजल की बढ़ी दरों के खिलाफ चार पहिया और दो पहिया वाहनों को खड़ा करके सफेद चादर ओढ़ाकर श्रद्धांजलि दी। यह प्रदर्शन गंगापुर-सहाड़ा विधायक गायत्रीदेवी और महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष रेखा हिरण के नेतृत्व में किया गया। हिरण ने कहा कि एलपीजी गैस और पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों के कारण आर्थिक स्थिति कमजोर होती जा रही है।

इस विरोध प्रदर्शन में महिला प्रदेश उपाध्यक्ष विजयलक्ष्मी गुर्जर, इंदिरा सोनी, महिला कांग्रेस की पूर्व प्रदेश कमेटी सुमित्रा कांटिया, पूर्व चेयरमैन मधु जाजू, पश्चिम ब्लॉक अध्यक्ष मंजू पोखरना, मोनू त्रिवेदी, संजय हिरण, नर्मदा जैन, रेखा त्रिवेदी, दीपमाला लोट, साधना रंगरेज, अनिता पारीक, सुशीला जाट, नीतू पारीक, पार्षद अजहर खान, पार्षद वर्षा दरियानी आदि माैजूद रहे।

प्रदर्शन से पहले कचरे में फेंका सिलेंडर और चूल्हा बाद में चुपके से उठाकर ले गए

महिलाओं ने रसाेई गैस भरा एक सिलेंडर और गैस चूल्हा पास में रखे बड़े डस्टबिन में फेंक कर बढ़ी हुई कीमताें का विराेध किया। पूरे प्रदर्शन के दाैरान यह चूल्हा और सिलेंडर कचरे में पड़ा रहा। जब खत्म प्रदर्शन खत्म करके महिला कांग्रेस पदाधिकारी व कार्यकर्ता लाैटने लगीं ताे सिलेंडर और उस चूल्हे काे उठाकर ले गई। इसे लेकर दिनभर चर्चा भी रही।

खबरें और भी हैं...