पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गिरोह का पर्दाफाश:3 लाख में डमी अभ्यर्थी बिठाना था, परीक्षा से पहले एक गिरफ्तार, सरगना दिल्ली का

भीलवाड़ा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्त में आरोपी - Dainik Bhaskar
गिरफ्त में आरोपी
  • एसआई परीक्षा में फर्जी अभ्यर्थी बिठाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, मोबाइल व जीप जब्त

पुलिस सब इंस्पेक्टर परीक्षा में फर्जी अभ्यर्थी काे बिठाकर पास करवाने वाले गिराेह के एक सदस्य काे सुभाषनगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एसपी विकास शर्मा ने बताया कि जयपुर कमिश्नरेट की स्पेशल टीम के इंस्पेक्टर खलील अहमद से सूचना मिली कि परीक्षा में फर्जी अभ्यर्थी बैठने की संभावना है। इस पर सीओ सदर रामचंद्र के निर्देशन में टीम का गठन किया गया।

टीम ने मंगलवार काे जयपुर ग्रामीण के आंधी थाना क्षेत्र में चक दांथली पोस्ट बामनी निवासी वीरेन्द्र पुत्र कैलाश चन्द्र मीणा काे गिरफ्तार किया। आराेपी वीरेन्द्र मीणा सब इंस्पेक्टर परीक्षा में फर्जी अभ्यर्थी बिठाकर परीक्षा पास कराने वाले गिरोह में शामिल है। आराेपी के पास से जीप और एक माेबाइल फाेन जब्त किया है। अब पुलिस टीमें आराेपी वीरेन्द्र के साथी समेत गिराेह के सरगना और अन्य आराेपियाें की तलाश कर रही हैं।

आराेपी की परीक्षा 15 काे थी, खुद और दाेस्त की जगह बिठाना था डमी अभ्यर्थी

15 हजार एडवांस डिजिटल पैमेंट, बाकी परीक्षा के बाद

पुलिस के अनुसार आराेपी वीरेन्द्र मीणा खुद सब इंस्पेक्टर की परीक्षा देने भीलवाड़ा आया था। उसकी परीक्षा 15 सितंबर काे थी। आराेपी वीरेन्द्र ने दोस्त ललित मीणा निवासी नारदपुरा जयपुर और एक अन्य मित्र दिल्ली निवासी जीत से मिलीभगत कर 15 काे खुद की जगह और दोस्त खेमराज की 14 सितंबर काे हाेने वाली अजमेर में हाेने वाली परीक्षा में डमी अभ्यर्थी को बिठाने की योजना बनाई थी। दाे जनाें काे फर्जी तरीके परीक्षा दिलाने के लिए वीरेन्द्र मीणा और उसके दाेस्त ललित मीणा ने दिल्ली निवासी जीत नामक व्यक्ति से 3 लाख रुपए में साैदा तय किया था। परीक्षा से पहले गिरोह के सरगना जीत के खाते में 15 हजार रुपए डिजिटल माेड के जरिये डाले गए। बाकी की रकम बाद में देना तय हुआ। इस पूरी बातचीत की चैटिंग आराेपी वीरेन्द्र मीणा के मोबाइल में सुरक्षित मिली।

सब इंस्पेक्टर परीक्षा में 43 प्रतिशत ही पहुंचे अभ्यर्थी

पुलिस सब इंस्पेक्टर और प्लाटून कमांडर पद के लिए 15 सितंबर तक हाेने वाली परीक्षा के दूसरे दिन मंगलवार काे पहली और दूसरी पारियाें में कुल 7952 अभ्यर्थियाें में से क्रमश: 3414 और 3413 ने परीक्षा दी। लगभग 57 प्रतिशत अभ्यर्थी परीक्षा देने ही नहीं पहुंचे। इस परीक्षा के लिए जिला मुख्यालय पर 23 केन्द्र बनाए गए हैं। सब इंस्पेक्टर परीक्षा मंगलवार सुबह 10 से 12 बजे और दाेपहर 3 से 5 बजे तक हुई। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियाें ने परीक्षा की तैयारियाें का जायजा लिया। नकल राेकने के लिए फ्लाइंग स्क्वाड ने भी गश्त की। शहर के काेतवाली, प्रतापनगर, सुभाषनगर और भीमगंज थाना प्रभारियाें के अलावा अन्य पुलिस अधिकारियाें और जाप्ते ने परीक्षा केन्द्राें पर सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

खबरें और भी हैं...