पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

काेटड़ी थाने पर फसाद:घर पर झगड़े, पुलिस थाने लाई तो वहां भी पथराव-लाठियां चलाई

भीलवाड़ा22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोटड़ी थाने के बाहर मंगलवार को दो पक्षों के लोग एक-दूसरे पर पत्थर फेंकने लगे। महिलाओं ने भी लाठियां चलाईं। - Dainik Bhaskar
कोटड़ी थाने के बाहर मंगलवार को दो पक्षों के लोग एक-दूसरे पर पत्थर फेंकने लगे। महिलाओं ने भी लाठियां चलाईं।
  • 6 लाेग हिरासत में फिर भी पुलिस को रिपोर्ट का इंतजार

थाने में मंगलवार काे अजीब वाकया पेश आया। झगड़े की सूचना पर पुलिस दाे लाेगाें काे पकड़ थाने लाई। घायल एक युवक काे भी पुलिसकर्मी अस्पताल से इलाज कराकर ला रहे थे कि थाने के सामने पहले से माैजूद दूसरे पक्ष के लोगों ने लाठियाें व पत्थराें से उस पर हमला कर दिया।

इस दाैरान दूसरे पक्ष के लोग भी माैके पर पहुंच गए। दाेनाें पक्ष के बीच थाना परिसर में ही लाठी-भाटा जंग शुरू हाे गई। इससे एकबारगी थाने में अफरा-तफरी मच गई, बाद में पुलिस ने सख्ती करते हुए दाेनाें पक्षाें के लाेगाें काे खदेड़ा। पुलिस ने मामले में आधा दर्जन से ज्यादा महिला-पुरुषाें काे हिरासत में लिया है।

इससे पहले काेटड़ी में ही दाेनाें पक्षाें के बीच किसी बात काे लेकर झगड़ा हाे गया था। इसकी सूचना पर पहुंची पुलिस दाेनाें पक्षाें के कुछ लाेगाें काे थाने लेकर आई थी। थानाधिकारी राजकुमार नायक ने बताया कि सांसी समाज के दो पक्षों में किसी बात को लेकर आपसी विवाद हो गया था। जिसमें मांगीलाल सांसी कोटड़ी व राजू सांसी मांडल में विवाद हो जाने से हुई मारपीट हाे गई। जिसमें दोनों सिर में लगने से घायल हो गए।

घायल युवक का पुलिस इलाज कराकर ला रही थी तब किया महिलाओं ने हमला
कस्बे में झगड़े की सूचना मिलने पर पहुंचे दीवान सतपाल व जाब्ता दोनों घायलों को इलाज के लिए अस्पताल ले गए। इस बीच दोनों पक्षों की महिलाएं थाने के बाहर हल्ला मचाने लगी, जिन्हें समझाकर बैठा दिया। साथ ही पुलिस ने रिपोर्ट देने पर उचित कारवाई का भरोसा दिलाया।

कुछ देर बाद दीवान सतपाल व जाब्ता घायल युवक काे प्राथमिक उपचार के बाद अस्पताल से लेकर आए। पहले से थाने के बाहर माैजूद दूसरे पक्ष के महिला-पुरुषाें ने हमला बोल दिया। इसे देखकर वहां माैजूद सामने वाले पक्ष के लाेगाें ने भी लाठी-भाटे बरसाने शुरू कर दिए। जिससे एक बार अफरा-तफरी का माहौल हाे गया। बाद में पुलिस टीम ने दोनों पक्षों के लोगों को समझा कर शांत किया और दाेनाें पक्षाें के करीब आधा दर्जन से ज्यादा महिला-पुरुषाें काे हिरासत में लिया।

खबरें और भी हैं...