पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

साइबर ठगी:पांच किलाे गेहूं के आवेदकों को फाेन आया-आपका ऑनलाइन आवेदन गलत...520 रुपए दो तो मिलेगा

भीलवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सरकारी वेबसाइट पर आवेदन करना भी अब सुरक्षित नहीं...ठगे जा चुके हैं कई गरीब

खाद्य सुरक्षा याेजना में फाॅर्म भर रहे लाेगाें का डेटा लीक हाेने का मामला सामने आया है। नियमानुसार ये डेटा सरकारी वेबसाइट पर सरकारी निगरानी में ही रहते हैं, लेकिन खाद्य सुरक्षा याेजना के लिए भरे गए ऑनलाइन के डेटा लीक हाे रहे हैं। ये डेटा कुछ साइबर एक्सपर्ट ले रहे हैं और ऑनलाइन आवेदन करने वाले लाेगाें काे फाेन करके उनसे पैसा लेकर उसकी आवेदन स्वीकृत कराने की बात कर रहे हैं।

ऐसा ही एक फाेन शहर के बाबू माली के पास आया। इसमें फाेन करने वाला व्यक्ति आवेदनकर्ता से कह रहा है कि आपने ऑनलाइन फाॅर्म भर दिया लेकिन आपके माेबाइल नंबर लिंक नहीं है। इसलिए आप 520 रुपए हमारे खाते में जमा करवाओ ताकि आपका आवेदन स्वीकृत हाे सके और आपकाे प्रति परिवार पांच किलाे गेहूं मिलना शुरू हाे जाए।

सरकारी डाटा लीक; फाेनकर्ता व आवेदक के बीच माेबाइल पर बातचीत के अंश

फाेनकर्ता: हम आपका आवेदन ऑनलाइन ओके कर देंगे लेकिन चार्ज लगेगा।
बाबू माली: कितने रुपए।
फाेनकर्ता: 520 रुपए।
बाबू: चार्ज किस बात का।
फाेनकर्ता: आपका माेबाइल नंबर लिंक नहीं है, आपका फाॅर्म सही तरीके से ऑनलाइन नहीं चढ़ा।
बाबू: ई-मित्र वाले ने ताे ऑनलाइन कर दिया था। मुझे रसीद भी मिल गई थी।
फाेनकर्ता: फिर आपकाे गेहूं मिल गया क्या।
बाबू:नहीं अभी तक ताे नहीं।
फाेनकर्ता: हम आपका फाॅर्म ऑनलाइन चढ़ाएंगे ताे आपकाे तुरंत गेहूं मिल जाएगा।
बाबू: मैं एक बार ई-मित्र वाले से बात कर लेता हूं कि उसने आवेदन ऑनलाइन सही क्याें नहीं किया।
फाेनकर्ता: आप ई-मित्र काे छाेड़ाें और मैं यहीं से पूरा काम ओके कर देता हूं आप ताे पैसा भिजवाओ।
बाबू: ओके मैं देखता हूं।
फाेनकर्ता: वास्तव में ताे आपका 260 रुपए ही लगेगा, बाकी पैसा आप जब गेहूं लेने जाएंगे ताे दूकान से वापस मिल जाएगा।
बाबू: आपका ऑफिस कहां है, मैं आ जाता हूं।
फाेनकर्ता: मैं आपकाे अकाउंट नंबर भेज रहा हूं या गूगल या फाेन-पे कर दाे।
बाबू : गूगल और फाेन-पे ताे मैं चलाता ही नहीं हूं।
फाेनकर्ता: आप आधा घंटे में जमा करवा दाे, मैं कितनी देर आपके लिए इंतजार करुं।
बाबू: ई-मित्र वाले काे कहकर उससे भिजवा देता हूं।
फाेनकर्ता: ई-मित्र वाले से नहीं काेई लेना-देना नहीं, आप ताे डायरेक्ट भिजवा दाे।
बाबू माली: ठीक है मैं भिजवाता हूं।

जिले में 4.26 लाख परिवार काे देते है गेहूं
4.26 लाख परिवार काे सरकार की ओर से रियायती दर पर गेहूं दिया जाता है। इनमें बीपीएल, स्टेट बीपीएल और अंत्याेदय परिवार काे एक रुपए किलाे और अन्य लाभार्थी परिवार काे दाे रुपए किलाे में गेहूं दिया जाता है। इसमें एक परिवार में प्रति व्यक्ति पांच-पांच किलाे गेहूं दिया जाता है।

  • वैसे ताे सरकारी पाेर्टल से ऐसी जानकारी लीक नहीं हाे सकती है। फिर भी इस संबंध में डीएसओ ही ज्यादा जानकारी दे सकते हैं। - सत्यदेव व्यास, उप निदेशक, सूचना एवं प्राैद्याेगिक विभाग
  • खाद्य सुरक्षा के लिए किसी तरह का काेई पैसा नहीं लगता है। यदि किसी व्यक्ति के पास पैसा जमा कराने का फाेन आ रहा है ताे यह गलत है। यह एक तरह से धाेखाधड़ी है। पाेर्टल पर दी गई जानकारी लीक कैसे हाे रही है, इसकी जानकारी मुझे नहीं है। यह जानकारी सूचना एवं प्राैद्याेगिक विभाग ही दे सकता है। - सुनील वर्मा, डीएसओ, भीलवाड़ा

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें