पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पर्व विशेष:काेराेना वार्ड में भाई-बहन दे रहे सेवा...अलग-अलग ड्यूटी इसलिए एकदिन पहले बांधी राखी

भीलवाड़ा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजाद चौक में राखियों की खरीदारी - Dainik Bhaskar
आजाद चौक में राखियों की खरीदारी
  • ये ऐसे कोरोना वॉरियर्स जिनके लिए त्योहार पर भी सेवा करना पहला कर्तव्य...हमें महामारी के संक्रमण से मुक्त रखने के लिए हैं समर्पित

काेराेना संक्रमित हाे चुके लाेगाें की सेवा के लिए एमजी अस्पताल में भाई-बहन एक साथ सेवाएं दे रहे हैं। रायला निवासी चांदमल जीनगर मेल नर्स द्वितीय के रूप में और इनकी बड़ी बहन निर्मला जीनगर स्टाॅफ नर्स के रूप में सेवाएं दे रही हैं। चांदमल जब पहली बार काेराेना वार्ड में ड्यूटी देने गए ताे बहन ने हाैसला बढ़ाकर उनकाे भेजा।

जब ड्यूटी के लिए नाम आया ताे डर गया था पर बहन ने ही हिम्मत दी। इसके बाद जब बहन की भी काेराेना वार्ड में ड्यूटी आई ताे भाई ने हिम्मत बढ़ाई। चांदमल ने बताया कि जब काेराेना संक्रमण फैला ही था और काेराेना में ड्यूटी देते समय डर लगा बड़ी बहन का फाेन आया और उसने मेरा हाेंसला बढ़ाया। बहन मुझे हर वक्त काेराेना मरीजाें की सेवा में लगे रहने के लिए जागरुक करती हैं। बस यही कारण रहा कि लगातार काेराेना वार्ड में ड्यूटी दे सका।

एमजी हॉस्पिटल में सेवारत चांद मल व बहन निर्मला जो एक-दूसरे को बंधाते हैं हिम्मत।
एमजी हॉस्पिटल में सेवारत चांद मल व बहन निर्मला जो एक-दूसरे को बंधाते हैं हिम्मत।

भाई की ड्यूटी रात में व बहन की दिन में इसलिए घर पर नहीं मिलेंगे

कोरोना वार्ड में नाइट ड्यूटी दे रहे भाई को बहन ने एक दिन पहले ही राखी बांधी।
कोरोना वार्ड में नाइट ड्यूटी दे रहे भाई को बहन ने एक दिन पहले ही राखी बांधी।

काेराेना में एमजी अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में लगातार ड्यूटी दे रहे भाई-बहन रक्षाबंधन काे नहीं मिल पाएंगे इसलिए एक दिन पहले रविवार काे बहन ने भाई काे रक्षासूत्र बांधा। असल में भाई की ड्यूटी रात में हाेने के कारण बहन उनसे मिल नहीं पाएंगी। कंवलियास निवासी व मेल नर्स द्वितीय हिम्मत जाेशी एमजी हॉस्पिटल के ऑर्थाेपेडिक काेराेना आइसोलेशन वार्ड में ड्यूटी दे रहे हैं।

जाेशी की बड़ी बहन टीना शर्मा भी काेराेना जांच केंद्र में सेवाएं दे रही हैं। राखी काे दिन टीना की ड्यूटी दिन और भाई हिम्मत की ड्यूटी रात में है। बहन ससुराल में रहती हैं ऐसे में दाेनाें भाई-बहनाें का इस दिन मिलना मुश्किल था, इसलिए बहन टीना ने एक दिन पहले रविवार काे ही भाई की कलाई पर रक्षासूत्र बांध दिया। रविवार काे हिम्मत काेराेना जांच केंद्र के ऑफिस में पहुंचे और शुभ मूहूर्त में राखी बंधवाई।

संयोग . श्रवण नक्षत्र व आयुष्मान योग बढ़ाएगा भाई-बहनों में स्नेह

सावन मास के अंतिम साेमवार 3 अगस्त काे राखी का त्योहार मनाया जाएगा। ज्योतिषियों के अनुसार सुबह 9:30 बजे बाद से पूरे दिन राखी बांधने के लिए शुभ मुहूर्त रहेगा। 29 साल बाद श्रावण पूर्णिमा व सावन के अंतिम सोमवार को आ रहा रक्षाबंधन पर्व कई शुभ योग व नक्षत्रों के संयोग लेकर आया है।

पंडित राजेंद्रकुमार ने बताया कि रक्षाबंधन पर सर्वार्थसिद्धि व दीर्घायु आयुष्मान योग बन रहा है। साथ ही सूर्य शनि के समसप्तक योग, प्रीति योग, सोमवती पूर्णिमा, मकर का चंद्रमा, उत्तराषाढ़ा व श्रवण नक्षत्र में सोमवार का योग भी बन रहा है। इससे पहले तिथि वार और नक्षत्र का यह संयोग वर्ष 1991 में बना था। पंडित अशोक शर्मा ने बताया कि इन संयोगों से रक्षाबंधन पर सुभिक्षकारी व सुखद योग के साथ ही कृषि क्षेत्र के लिए विशेष फलदायी व वर्षा के योग वाला भी है।

.

  • ये रहेगा शुभ अभिजीत मुहूर्त...श्रावणी पूर्णिमा को उत्तराषाढ़ा नक्षत्र सुबह 7:19 बजे तक रहेगा। उसके बाद श्रवण नक्षत्र आरंभ हो जाएगा, जो अगले दिन सुबह तक रहेगा। इसके अलावा विशेष अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12:05 से दोपहर एक बजे तक रहेगा। यह समय राखी बांधने के लिए सर्वश्रेष्ठ रहेगा। वहीं शाम को गोधूलि बेला का शुभ मुहूर्त भी बन रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser