• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bhilwara
  • In Two And A Half Years, 4 Personnel Were Killed While Driving The Vehicle, The Judge MLA Has Caught The Officers Doing The Recovery

हाईवे पर मौत और वसूली का हजारी खेड़ा:ढाई साल में वाहन राेकते 4 कार्मिकों की मौत हुई जज-विधायक पकड़ चुके हैं वसूली करते अफसर

भीलवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हजारी खेड़ा के पास बना रखी है मनमर्जी की चैक पोस्ट - Dainik Bhaskar
हजारी खेड़ा के पास बना रखी है मनमर्जी की चैक पोस्ट

अवैध वसूली और दुर्घटनाओं के लिए परिवहन विभाग का हजारी खेड़ा चेक पाइंट बदनाम हाे चुका है। अब ताे यह डेथ पाइंट बन गया है। जान की कीमत तक अवैध वसूली हाे रही है। भास्कर पड़ताल में सामने आयी कि इस पाइंट पर इंस्पेक्टराें और गार्डाें काे अवैध वसूली करते जज व विधायक ने भी पकड़ा लेकिन वसूली नहीं थम रही।

हाईवे पर मनमर्जी की बेरीकेडिंग कर दी जाती है। वाहनाें काे अचानक राेकने से आए दिन दुर्घटनाएं हाेती हैं। ढाई साल के दाैरान परिवहन विभाग के तीन गार्डाें, एक युवक की माैत हाे गई और कई घायल हाे चुके हैं। 9 दिसंबर की रात एक ट्रक से एक युवक काे टक्कर लगने के बाद यह प्वाइंट फिर चर्चा में है।

करीब 10 बजे हादसा हुआ था। परिवहन विभाग के इंस्पेक्टर ने मामला दबाते हुए बुरी तरह घायल युवक काे ट्रक में बिठाकर बाहर भिजवा दिया। सूत्राें के अनुसार, उसकी माैत हाे चुकी है लेकिन न पुलिस में रिपाेर्ट दी गई और न यह बताया कि िजसे चाेट लगी थी वह काैन था? हालांकि परिवहन विभाग के अधिकारी अब सफाई दे रहे हैं कि वे लाेग डंडे व सरिये से परिवहन विभाग के दस्ते काे मारने आ रहे थे, तब हादसा हुआ।

प्रतापगढ़ के जज ने इसी इंस्पेक्टर काे पकड़ा था
हजारी खेड़ा पाॅइंट अवैध वसूली के लिए बदनाम है। 17 जनवरी 2019 काे इंस्पेक्टर अनिल प्रसाद की ड्यूटी के समय प्रतापगढ़ के तत्कालीन जिला जज राजेंद्र शर्मा ने परिवहन विभाग के दस्ते को ट्रक चालकों से वसूली करते पकड़ा था। जज शर्मा उस दिन प्रतापगढ़ से जयपुर जा रहे थे। उस वक्त कार्रवाई के नाम पर तत्कालीन डीटीओ आदर्शसिंह राघव ने इंस्पेक्टर काे फील्ड ड्यूटी से हटाकर ऑफिस में लगा दिया था।

विधायक विधुड़ी ने पकड़ा ताे पैराें में गिरा
इसी चैक पाॅइंट पर बेगूं विधायक राजेंद्र विधुड़ी ने इंस्पेक्टर सुधीर सहवालिया काे 2 बार वसूली करते पकड़ा। उसके बाद इंस्पेक्टर काे यहां से हटा दिया गया। इस पाॅइंट पर लंबी लाइनें लगने के कारण यहां से िनकलने वाले राहगीर परेशान हाे जाते हैं इसलिए इस तरह की कार्रवाई हाेती है। आसपास के ग्रामीणाें ने भी दुर्घटनाएं हाेने के कारण पाॅइंट बदलने की मांग की है।

राेस्टर में तीन की ड्यूटी माैके पर एक ही, इंस्पेक्टर बोले- दो साथी ड्यूटी पर लेकिन कहीं गए हुए हैं

हजारीखेड़ा पाइंट पर ड्यूटी से गार्ड गायब भी रहते हैं। साेमवार दाेपहर 2 से 10 बजे तक उड़नदस्ता संख्या-20 की ड्यूटी थी। इसमें इंस्पेक्टर अनिल प्रसाद, जितेंद्रपाल बहादुर व सुरेश जांगिड़ लगे हुए हैं। शाम 6 बजे माैके पर केवल जांगिड़ मिले। भास्कर टीम ने अनिल प्रसाद व जितेंद्र बहादुर के बारे में पूछा? सुरेश ने स्वीकारा कि दाेनाें भी ड्यूटी पर ही हैं कहीं गए हाेंगे। कुछ समय में आ जाएंगे। खास बात यह कि 9 दिसंबर काे भी इन्हीं तीनाें की ड्यूटी थी। माैके पर केवल जितेंद्रपाल माैजूद थे। इसी तरह एवजी का खेल भी चल रहा है। जिस गार्ड/ इंस्पेक्टर की ड्यूटी हाेती है, वह नहीं हाेकर वर्दी में काेई भी रहता है। ताकि वसूली करते समय रिकार्डिंग या वीडियाे में नहीं आए।

जािनए कब-कब हादसे में किसकी मौत हुई

  • 15 अप्रैल 2019: हजारी खेड़ा पाइंट पर गार्ड किशन सालवी की ट्रक की टक्कर से माैत हाे गई थी। इस मामले में परिवहन िवभाग ने किशन काे अपना कर्मचारी मानने से ही इनकार कर िदया।
  • 19 नवंबर 2019: चेकिंग के दाैरान डूयटी पर गार्ड ब्यावर निवासी रूपा काठात के मांडल की अाेर से अा रहे ट्रक की टक्कर से माैत हाे गई। ड्यूटी अफसर अनिल प्रसाद ने तर्क दिया था िक लघुशंका करके अाते समय सर्विस लेन पर टक्कर लगी। हकीकत यह थी िक वाहन काे राेकते समय हादसा हुअा।
  • 21 दिसंबर 2020: झुंझुंनू निवासी राजेंद्र जाट हजारी खेड़ा पाइंट पर ही था। यहां तेज गति से अा रहे ट्रक ने टक्कर मार दी। इससे माैत हाे गई। ये दुर्घटनाएं वाहनाें से दस्तावेज लेने व अवैध वसूली के प्रयास में ही हाेती है।
  • 28 अक्टूबर 2021: हजारी खेड़ा पाइंट पर गार्ड रणजीतसिंह काे ट्रक ने टक्कर मार दी। इससे सिर व पैर में चाेटें आई। फ्लाइंट टीम में इंस्पेक्टर शंभूलाल बलाई व जितेंद्रपाल थे।

खबरें और भी हैं...