पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bhilwara
  • Lecture On Jarasangha War Episode On The 45th Day Of Bhagwat, Religious Events Will Be Held From Kovid 19 Guideline To Ramlila Stage, Sharad Purnima In Harisheva Dham

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शरद पूर्णिमा:भागवत के 45वें दिन जरासंघ युद्ध प्रसंग पर व्याख्यान,हरिशेवा धाम में कोविड-19 गाइडलाइन से रामलीला मंचन, शरद पूर्णिमा तक होंगे धार्मिक आयोजन

भीलवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नवरात्र के अवसर पर हरीशेवा उदासीन आश्रम मे विभिन्न धार्मिक और आध्यात्मिक अनुष्ठानों के तहत सुबह कथा में ‘पाक्षिक महाशक्ति लीला कथा’ के तीसरे दिन सोमवार की कथा का वाचन करते हुए व्यासपीठ से स्वामी याेगेश्वरानंद ने कहा कि धर्म की स्थापना एवं धर्म संस्थापन द्वारा विश्व में सुख समृद्धि की स्थापना करने के लिए जो भगवती कर रही है, उस लीला को हम लोग श्रवण कर रहे हैं। सीता, रुक्मणी आदि के रूप में,

संसार में जितनी भी स्त्रियां हैं वे भिन्न-भिन्न कलाओं को धारण करने वाली व सब के सब स्त्रियों के रूप में मां आप ही हो। पृथ्वी के रूप में भी आप हैं। जगत के आधारभूता भी आप हैं। वैसे देवी भागवत महापुराण के अनुसार तीन महाचरित्रों का तीन महालीलाओं का हम दर्शन करते हैं। अनंत भक्तों का कार्य करने के लिए अनंत लीलाएं की हंै। कथा के दौरान देवी चंद्रघटा की झांकी के दर्शन हुए। शाम को भागवत कथा के 45वें दिन की कथा में स्वामी याेगेश्वरानंद ने जरासंघ के साथ युद्ध, कालयवन संघार, श्री कृष्ण रुक्मणी विवाह प्रसंगों का वर्णन किया। कथा के बाद आरती में राजस्थान सर्व कुम्हार महासभा के

जिलाध्यक्ष मोहनलाल प्रजापति, महामंत्री सोहनलाल प्रजापति, उपाध्यक्ष बरदीचंद प्रजापति, मंत्री दुर्गालाल प्रजापति, युवा छात्र नेता पंकज प्रजापति ने व्यासपीठ का पूजन कर आशीर्वाद लिया। रामलीला मंचन में अहिल्या का उद्धार, गौतम ॠषि की पत्नी अहिल्या शाप के कारण पत्थर हो गई थी, उसका भगवान ने उद्धार किया। पुनः भगवान भगवती गंगा के वहां पर पहुंचे। पंडितों से भगवान ने वंशावली के बारे में पूछा। भगवान

जनकपुर पहुंचे। महामंडलेश्वर स्वामी हंसराम उदासीन, मयाराम, राजाराम, गोविंदराम आदि श्रद्धालु उपस्थित थे। रामलीला मंचन कोविड 19 गाइडलाइन के अनुसार हो रहा है। नित्य मंडल पूजन, रुद्राभिषेक, हवन यज्ञ, विभिन्न स्तोत्र के पाठ, भागवत मूल पाठ, पारायण, धार्मिक और आध्यात्मिक अनुष्ठान शरद पूर्णिमा तक होंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें