त्योहार और बाजार:नवंबर-दिसंबर की शादियाें के लिए मैरिज हॉल बुक, 200 मेहमानाें की छूट मिलने से टेंट-केटरिंग वाले भी उत्साहित

भीलवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • देवउठनी एकादशी के बाद पहला सावा 14 नवंबर को, उसी महीने में 5 दिन और शादी के मुहूर्त

देवशयन के चातुर्मास में मांगलिक कार्याें पर विराम है। शादी के मुहूर्त डेढ़ महीने बाद शुरू हाेंगे। इनके लिए मैरिज हाॅल, टेंट, बैंड, घाेड़ी व कैटरिंग की बुकिंग शुरू हाे चुकी है। नगर व्यास पंडित राजेंद्र कुमार ने श्रीधर पंचांग के आधार पर बताया कि नवंबर व दिसंबर में 6-6 मुहूर्त है। जनवरी में 3, फरवरी व अप्रैल में फिर विवाह के 6-6 मुहूर्त हैं।

इन सावाें के लिए मैरिज हाॅल व हाेटल बुक हाेने लगे हैं। बैंड, केटरिंग, सजावट से जुड़े लाेगाें भी उत्साहित हैं। इन्हें उम्मीद है कि आगामी सावाें पर काम-धंधा अच्छा रहेगा। 14 नवंबर काे देवउठनी एकादशी है। माना जाता है कि इस दिन से भगवान विष्णु क्षीर सागर से निकलकर सृष्टि का संचालन करते हैं।

देवउठनी एकादशी के दिन माता तुलसी और सालिग्राम का भी विवाह हाेगा। यही वह दिन है जब से शुभ मुहूर्त की शुरुआत हाेती है। पिछले साल भी नवंबर में शादियां हुई थी, लेकिन काेराेना का असर हाेने से मैरिज हाॅल, बैंड बाजा, केटरिंग, लाइट वालाें और इससे जुड़े अन्य व्यवसायियाें का व्यवसाय प्रभावित हुआ था।

इस साल भी फिर लाॅकडाउन लग गया, शादी के सीजन में सब कुछ बंद हाे गया। जून-जुलाई में 7 मुहूर्त मिले, छूट की वजह से शादियां भी हुई, लेकिन नाम मात्र के व्यक्तियाें के ही शादी में शामिल हाेने की छूट के चलते व्यावसायिक दृष्टि से अधिक फायदा नहीं हुआ।

कब-कब हैं शादियाें के मुहूर्त

  • नवंबर 14, 20, 21, 28, 29, 30
  • दिसंबर 1, 7,8, 9, 11, 13
  • जनवरी 22, 23, 25
  • फरवरी 5, 6, 7,10, 18, 19
  • मार्च 4 फूलेरा दूज का अबूझ मुहूर्त
  • अप्रैल 15, 19, 20, 21, 22, 23

त्योहार-सावों से पहले फर्नीचर काराेबार में तीन गुना चमक, नवंबर की शादियों के लिए हाे रही बुकिंग

इन दिनाें फर्नीचर मार्केट में अच्छा रुझान है, शादियों की बुकिंग के ऑर्डर अच्छी संख्या में आ रहे हैं। नए ऑफिस की भी ओपनिंग हो रही है ताे वहां पर भी नए फर्नीचर लगाए जा रहे हैं। दीपावली पर सबसे अधिक खरीदारी का ट्रेंड फर्नीचर का ही रहता आया है।

सबसे अधिक डिमांड इन दिनाें फर्नीचर में सोफा, डाइनिंग टेबल, बेड और ऑफिस फर्नीचर की आ रही है। पिछले साल के मुकाबले में मार्केट से अच्छी उम्मीद है। गत साल काेराेना ने व्यापार कम हुआ था। इस बार उसके मुकाबले में मार्केट में तीन गुना अच्छा उछाल देखने को मिल रहा है।

मैरिज हाॅल - कई लाेगाें काे नहीं मिल रही मनपसंद जगह

रणबंका हाेटल के संचालक राजेंद्रसिंह का कहना है कि नंवबर-दिसंबर के अलावा अगले साल फरवरी में शादी के लिए लाेगाें काे मनपसंद जगह नहीं मिल रही है। वजह यह कि अधिकतर बड़ी व जानी-मानी जगह बुक हाे चुकी है। हालांकि मध्यम व छाेटे शादी घर 2022 की शादियाें के लिए खाली हैं। लाेग सावे की तारीख बता पूछताछ कर रहे हैं। नवरात्र में बुकिंग में तेजी अाएगी।

घाेड़ी-बग्घी व लाइट - 30% नुकसान की हाे सकेगी भरपाई

शहर में करीब 20 बैंड, 20 पंजाबी ढाेल, 10 घाेड़ी-बग्घी वाले ताे 50 से अधिक लाइट वाले हैं। टेंट व लाइट व्यवसायी भैरूलाल शर्मा का कहना है कि इस बार अच्छा व्यवसाय रहने वाला है। लाइट वालाें काे अच्छी बुकिंग मिल रही है। अब समस्या नहीं है। यदि सब ठीक रहा ताे करीब 30 प्रतिशत तक नुकसान की भरपाई हाे जाएगी।

केटरिंग - 200 लोगों की संख्या व्यवसाय के लिहाज से कम

केटरिंग एसाेसिएशन के अध्यक्ष मांगीलाल शर्मा बताते हैं कि अभी बुकिंग हाे रही है। लेकिन 200 लाेगाें की छूट केटरिंग व्यवसाय के लिए कम है। 400-500 लाेगाें का आर्डर हाेने पर फायदा हाेता है। 200 लाेगाें का खाना देने में भी उतना ही स्टाफ लगता है, जितना 400-500 लाेगाें के लिए। इस कारण 200 लाेगाें की संख्या में काेई बचत नहीं हाेगी।

बैंड-बाजे - डिस्काे लाइट-श्राद्ध के बाद बढ़ेगी बुकिंग

बैंड व डिस्काे लाइट के संचालक राजा भाई बताते हैं कि काेराेना व लाॅकडाउन के कारण धंधा चाैपट हाे गया है, लेकिन अब बुकिंग हाे रही है। नवंबर-दिसंबर में शादियाें का अच्छा सीजन रहने वाला है। श्राद्ध पक्ष के बाद बुकिंग बढ़ने वाली है। इस समय 8-10 लाेगाें का ही दल रख रहे हैं। 100 से 200 मीटर की बारात निकालने की बुकिंग ले रहे हैं।

खबरें और भी हैं...