पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

हादसा:15 घंटे बाद भी ड्राइवर व मालिक का पता नहीं लगा सकी पुलिस...ट्रैक्टर भी गायब

भीलवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मंगराेप में ट्रैक्टर की टक्कर से युवक की माैत का मामला, समझौते के बाद उठाया शव

मंगरोप थाना क्षेत्र में सियार गांव के पास बजरी से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली ने शनिवार देर रात बाइक सवार भाई-बहन को चपेट में ले लिया। हादसे में चित्तौड़गढ़ जिले के बिछाेर निवासी भाई की मौत हो गई, जबकि बहन घायल हो गई।

इस घटना के बाद रविवार सुबह से परिजनों और अन्य लाेगाें ने ट्रैक्टर चालक की गिरफ्तारी और मुआवजे की मांग लेकर महात्मा गांधी अस्पताल में प्रदर्शन किया। दोपहर बाद समझौता होने पर परिजन शव लेने काे तैयार हुए। जबकि पुलिस हादसे के 15 घंटे बाद भी ट्रैक्टर चालक व मालिक का नाम तक पता नहीं कर पाई। इतना ही नहीं मौके से ट्रैक्टर भी गायब हो गया।

मंगरोप पुलिस के अनुसार चित्तौड़गढ़ जिले के बिछाेर निवासी मनीष सोनी (23) अपनी बहन डूंगला निवासी मीनाक्षी पत्नी गाैरव सोनी के साथ शनिवार को भीलवाड़ा आया था। भाई-बहन बाइक से रात को लौट रहे थे। इस बीच, सियार गांव के पास बजरी भरे ट्रैक्टर ने बाइक को चपेट में ले लिया। हादसे में मनीष गंभीर रूप से घायल हाे गया। मीनाक्षी काे मामूली चोटें आईं। मंगराेप थाना प्रभारी स्वागत पांड्या मय जाब्ता पहुंचे और घायल भाई-बहन को महात्मा गांधी अस्पताल पहुंचाया।

जहां चिकित्सकों ने मनीष को मृत घोषित कर दिया, जबकि मीनाक्षी को भर्ती किया। बताया गया कि मनीष ने बाइक चलाते समय हेलमेट पहन रखा था, लेकिन हादसे से कुछ देर पहले ही हेलमेट को ऊपर कर दिया था। इस बीच ट्रैक्टर की चपेट में आने से मनीष के सिर में चोट आई, जिससे उसकी मौत हो गई।

सवाल : हादसे में पलटा ट्रैक्टर पुलिस ने उठवाया...फिर गायब कैसे हुआ
बाइक काे चपेट में लेने वाला ट्रैक्टर भी हादसे के दाैरान पलट गया, जिसे पुलिस के पहुंचने के बाद सीधा करवाया था। इसके बाद ट्रैक्टर भी मौैके से गायब हाे गया। करीब 15 घंटे बाद भी पुलिस ट्रैक्टर के ड्राइवर काे गिरफ्तार करना ताे दूर चालक और मालिक का नाम तक पता नहीं कर पाई। ट्रैक्टर ड्राइवर का नाम पता नहीं चलने पर मृतक के परिजनों ने नीले रंग के स्वराज ट्रैक्टर के ड्राइवर के नाम पर रिपाेर्ट दर्ज करवाई।

बजरी परिवहन नहीं रुकने काे लेकर क्षेत्रवासियों में राेष

कई बार शिकायत के बावजूद बनास नदी से बजरी परिवहन पर अंकुश नहीं लगने काे लेकर क्षेत्रवासियों ने रोष जताया। हादसे के बाद बड़ी संख्या में क्षेत्र के सियार, मंगराेप और आसपास के गांवों के ग्रामीण भी अस्पताल पहुंचे। इन लाेगाें ने आक्रोश जताया कि बजरी माफियाओंं के खिलाफ प्रशासन गंभीरता से कार्रवाई नहीं कर रहा है।

इधर, रविवार सुबह मृतक के परिजन और समाज के लाेग जिला अस्पताल पहुंच गए। सुबह पोस्टमार्टम के लिए मंगरोप पुलिस अस्पताल पहुंची। यहां इन लोगों ने शव उठाने से इनकार कर दिया। हंगामे की सूचना पर एडिशनल एसपी गजेंद्र सिंह जाेधा, सदर डीएसपी रामेश्वर प्रसाद दारिया, भीमगंज थाना प्रभारी मेघना त्रिपाठी मय जाब्ता अस्पताल पहुंचे। भाजपा जिलाध्यक्ष लादूलाल तेली, कांग्रेस नेता महेश साेनी भी अस्पताल पहुंचे।

बजरी माफिया ने अवैध परिवहन का तरीका भी बदल दिया, ट्रैक्टर पर शक हाेता है इसलिए डंपर व ट्रेलर में ढंककर करते तस्करी

जिले में बजरी माफिया ने पुलिस व खनिज विभाग के अधिकारियाें काे गच्चा देने के लिए अब बजरी परिवहन के तरीके बदल लिए हैं। ट्रैक्टर में बजरी ले जाने का जल्दी शक हाेने के कारण अब माफिया डंपर और ट्रैलर में ढंककर बजरी ले जा रहे हैं ताकि किसी काे उनमें बजरी भरी हाेने का शक नहीं हाे। खनिज विभाग की टीम ने रविवार काे तीन डंपर और दाे ट्रैलर जब्त स्वरूपगंज पुलिस चाैकी काे साैंपे हैं।

भीलवाड़ा एमई माेहम्मद आरिफ अंसारी ने बताया कि तीन डंपर व दाे ट्रैलर में बजरी भरकर ले जाई जा रही थी। बजरी काे ढंक रखा था कि किसी काे उनमें बजरी हाेने के बारे में शक नहीं हाे। गुप्ता सूचना के आधार पर खनिज विभाग की टीम वहां पहुंची और पांचाें वाहनाें काे जब्त कर स्वरुपगंज पुलिस चाैकी काे साैंप दिया है। पांचाें वाहनाें के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जा रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें