पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खूंटी पर उज्जवला:सब्सिडी बंद, 135 रुपए बढ़े, इसलिए 80% उपभोक्ता नहीं भराते सिलेंडर

भीलवाड़ा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाेटाे |प्रेम उपाध्याय - Dainik Bhaskar
फाेटाे |प्रेम उपाध्याय

यह तस्वीर सुवाणा क्षेत्र के कलुंदिया गांव की है। घर में खूंटी पर टंगा गैस सिलेंडर यह बता रहा है कि अब इसे भराना आम आदमी के बस की बात नहीं रही क्याेंकि कीमत सिलेंडर की 850 से 900 रुपए पहुंच गई है। केंद्र सरकार ने महिलाओं काे धुएं से मुक्ति दिलाने के लिए उज्ज्वला याेजना में मुफ्त गैस कनेक्शन बांटे।

जिले में इस याेजना के तहत दाे लाख 74 हजार गैस कनेक्शन बांटे गए। आश्चर्य की बात है कि इनमें से 80 प्रतिशत उपभाेक्ता दाेबारा सिलेंडर रिफिल कराने नहीं पहुंच रहे हैं। भास्कर टीम उज्जवला याेजना का सच जानने जित्या, मंगराेप, पीपली, कलुंदिया आदि गांवाें में पहुंची। यहां अधिकांश घराें में याेजना के तहत मिले गैस कनेक्शन बंद थे।

लाेगाें ने सिलेंडर काे खूंटी पर टांग दिया ताे किसी ने घराें में कबाड़ में रख दिया है। महिलाएं अब चूल्हे पर ही खाना बना रही है। कलुंदिया के जगदीश का कहना है कि सिलेंडर भरवाने का मतलब एक हजार रुपए का खर्च आता है, ऐसे में बहुत महंगा पड़ता है। अब जंगल से लकड़िया लाकर ही खाना बना रहे हैं।

घरेलू गैस सिलेंडर 855 रुपए में मिलता है
काेराेना से पहले गैस सिलेंडर रिफिल करवाने पर सब्सिडी मिलती थी, लेकिन यह भी मई, 2020 के बाद से ही बंद है। 14 महीने से सब्सिडी बंद हाेने व लगातार गैस के दाम में बढ़ाेतरी हाेने के कारण से गैस सिलेंडर कम रिफिल करवा रहे हैं।

जनवरी 2020 में 710.50 रुपए में सिलेंडर आता था उसमें सब्सिडी भी जाती है, लेकिन अब यह बंद है। अभी 1 जुलाई से घरेलू गैस सिलेंडर के दाम 855 रुपए पहुंच गए हैं। 2020 में सबसे कम दाम 611 रुपए जून में थे। इससे कम नहीं हुए।

कंटेंट|सुनील जाेशी

खबरें और भी हैं...