शक में पत्नी ने करवाई पति की हत्या:हत्या करने के बाद आरोपी महाराष्ट्र में छिपे, पुलिस ने तीनों को किया गिरफ्तार; एक के खिलाफ पहले से चल रहे 7 मामले

भीलवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में तीनों आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में तीनों आरोपी।

जिले के काछोला थाना क्षेत्र के धामनिया गांव में राखी के दिन खाखला व्यापारी की हत्या के मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाले तीनों बदमाशों को महाराष्ट्र से गिरफ्तार कर लिया है। तीनों को पुलिस थाने लेकर आई है। जहां उनसे इस घटना के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त की गई बाइक भी बरामद कर ली है।

मांडलगढ़ सीओ ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि 22 अगस्त को काछोला थाना क्षेत्र के धामणीया गांव में खाखला व्यापारी देवी सिंह को तीन बदमाशों ने घर में घुसकर गोली मार दी थी। फिर धारदार हथियार से गला रेत कर निर्मम हत्या कर दी थी। पुलिस ने इस मामले में घटना को अंजाम देने वाले चित्तौड़गढ़ के विजयपुर हाल लेबर कॉलोनी निवासी कुलदीप सिंह पुत्र गजराज सिंह राजपूत, मध्य प्रदेश के अटेर हाल आजाद नगर निवासी तेजेंद्र सिंह उर्फ रानू भदोरिया और मजिस्ट्रेट कॉलोनी के पीछे कच्ची बस्ती निवासी राजेंद्र उर्फ राजेश को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इस मामले में भीलवाड़ा शहर के सुभाष नगर थाना क्षेत्र के जांगिड़ छात्रावास के पास रहने वाले शेरू माली को भी गिरफ्तार किया है। इस घटना के बाद माली ने ही इन तीनों बदमाशों को छुपाने के लिए शरण दी थी। पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए। इन तीनों बदमाशों के खिलाफ पहले से कई मामले कोर्ट में ट्रायल पर चल रहे हैं।

महिला से अवैध सम्बन्धों के शक में थी हत्या

पुलिस ने बताया कि देवी सिंह की हत्या उसकी पत्नी पिंकी खबर द्वारा ही प्लान की गई थी। पिंकी कंवर को शक था कि देवी सिंह के ट्रक पर मजदूरी करने वाली एक महिला के साथ अवैध संबंध हैं। इस मामले को लेकर ही पिंकी ओर देवी सिंह के बीच 3 साल से अनबन चल रही थी। पिंकी ने अपनी बहन के जवाई कुलदीप सिंह से देवीसिंह की हत्या करने के लिए कहा था। कुलदीप ने अपने दोस्त तेजेन्द्र व राजेन्द्र के साथ मिलकर रखी के दिन देवी सिंह का गला काटकर व गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी थी।

हार्डकोर अपराधी है कुलदीप

पुलिस ने बताया कि इस घटना को अंजाम देने वाले कुलदीप के खिलाफ पहले से 7 मामले कोर्ट में ट्रायल में चल रहे हैं। यह सभी मामले प्रताप नगर थाना क्षेत्र में दर्ज है। वही उसका साथ देने वाले तेजेंद्र व राजेंद्र के खिलाफ प्रताप नगर व सुभाष नगर में मामले दर्ज हैं। यह भी कोर्ट में ट्रायल पर चल रहे हैं। पुलिस ने बताया कि कुलदीप को भीलवाड़ा शहर में शूटर के नाम से जाना जाता है यह हार्डकोर अपराधी है।

खबरें और भी हैं...