पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तकनीक का नायाब उदाहरण:जोधड़ास में बन रहा है शहर का सबसे लंबा आरओबी, 1170 मीटर लंबाई

भीलवाड़ा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
46 खंभों पर बनेगा - Dainik Bhaskar
46 खंभों पर बनेगा
  • पाइल टेक्नोलॉजी, ये ओपन फाउंडेशन वालेे ब्रिज के मुकाबले अधिक भार सह सकते हैं

शहर को रिंग रोड से जोड़ने के लिए यूआईटी की ओर से बनाया जा रहा जोधड़ास रेलवे ओवरब्रिज इंजीनियरिंग का नायाब उदाहरण होगा। 1170 मीटर का यह ब्रिज शहर का अब तक का सबसे लंबा ब्रिज होगा। ओवरब्रिज का निर्माण आधुनिक पाइल तकनीक से हो रहा है। इस तकनीक से बने ब्रिज ओपन फाउंडेशन से बने ब्रिज के मुकाबले अधिक भार वहन करने की क्षमता रखते हैं।

यह भार को सीधे ही सबसे नीचे की हार्ड रॉक पर स्थानांतरित कर देती है। जिससे ओवरब्रिज के भार वहन की क्षमता में कई गुणा बढ़ोतरी हो जाती है। जोधडास चौराहा ओवरब्रिज के लिए 12 से 15 मीटर गहरी जमीन में एक मीटर व्यास से पाइल्स खुदाई हुई। प्रत्येक पियर के लिए चार पाइल्स का समूह लेकर फाउंडेशन का निर्माण किया जा रहा है।

मजबूती के लिए पाइल की संख्या बढ़ाई

रेलवे क्षेत्र में इसे और भी मजबूती देते हुए चार पाइल्स ग्रुप के बजाए छह पाइल्स ग्रुप का फाउंडेशन दिया है। इस प्रकार पूरे ब्रिज में रेलवे क्षेत्र में 48 पाइल्स एवं 8 पियर होंगे। रोड पोर्सन में 152 पाइल्स व 34 पियर बनाए जा रहे हैं। ओवरब्रिज में 4 आउटमेंट होंगे। फोरलेन आकार में कुल 22 स्पान होंगे। जिसमें से 3 स्पान रेलवे एवं 19 स्पान रोड साइड में बनेंगे।

खबरें और भी हैं...