पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भीमलत घाट सेक्शन:सूर्य की रोशनी से चमक उठता है हराभरा हाड़ोती का पठार

भीलवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मार्च 2020 से लेकर अब तक पूरे देश के लोगों ने कई तरह के पाबंदियों भरे लॉकडाउन देखे हैं सड़कों पर वाहन फैक्ट्रियां ठप हो जाने से हमने प्रकृति को एक नायाब तोहफा दिया है जिसके परिणाम हमें आज हर तरफ देखने को मिल रहे हैं। भीलवाड़ा जिले की सीमा से साढ़े साल किलोमीटर दूर भी एक ऐसा ही विहंगम नजारा देखने को मिलता है जहां खड़े खड़े आप हरियाली की हाडोती के पठार पर सूर्य की किरण पड़ने से पहाड़ चमकते हुए, दूरदराज के पहाड़ और सड़क किनारे बहता कल कल पानी देख सकते हैं।

भीलवाड़ा जिले से बूंदी में प्रवेश करने वाले यात्रियों का मन इस दृश्य को देखकर गाड़ी रोकने को विवश कर देता है भीमलत महादेव के जलप्रपात से गिरने वाली जल राशि जब बहकर मेघरावत की झोपड़ियां तक पहुंचती है तो यह नजारा ओर विहंगम नजर आने लगता है खेराड क्षेत्र से हाड़ौती क्षेत्र में गुजरने वाली रेल से भी यात्री इस नजारे को अपने फोन कैमरे में कैद करने से नहीं चूकते हैं भास्कर के पाठकों के लिए यह छायाचित्र अपने कैमरे में कैद किया वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर उज्ज्वल दाधीच ने। दाधीच ने बताया कि जानकारी लेने पर पता चला कि इस ट्रैक पर रेल की रेलमपेल नहीं रहती है। दिन में सिर्फ चार पांच बार ही रेलगाड़ी गुजरती है और कभी कभी इंजन का आवागमन होता है रेलवे से जानकारी मिलने पर अपने संसाधनों के साथ कई घंटे तक सड़क किनारे बैठकर इस नजारे में रेलगाड़ी को भी कैद करने के लिए मशक्कत की।

खबरें और भी हैं...