पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bhilwara
  • The Officials Did Not Hear That The Colonies Collected 4 4 Thousand Rupees From Every House, Got The Tap Connection By Getting The Pipeline Installed.

जलदाय विभाग कराएगा अब इसकी जांच:अधिकारियों ने नहीं सुना ताे काॅलाेनीवालों ने हर घर से 4-4 हजार रुपए एकत्रित िकए, पाइपलाइन डलवाकर ले लिए नल कनेक्शन

भीलवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • काॅलाेनी की तीन गलियों के लोगों ने रुपए एकत्र कर जेसीबी से खुदाई करवाकर पाइपलाइन डलवाई और उनको जुड़वा भी दिया

चंबल प्राेजेक्ट व जलदाय विभाग के अफसराें ने अनसुना किया ताे शहर की एक काॅलाेनी के लाेगाें ने हर घर से सामूहिक रूप से चंदा एकत्रित कर लिया। इन्हाेंने अपने स्तर पर ही पाइपलाइन डलवा दी और नल कनेक्शन भी ले लिए। ये लाेग कई समय से नल कनेक्शन का इंतजार कर रहे थे।

इसके लिए कई बार विभाग में चक्कर लगाए लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया ताे यह कदम उठाया। जलदाय विभाग की और से शहर में जलापूर्ति की जा रही है। कुछ काॅलाेनियां ऐसी हैं, जहां आधी जगह ही पानी पहुंच रहा और पूरा पानी नहीं मिल रहा है।

ऐसा ही एक मामला 100 फिट राेड पर मेजा हाउस के पास बिहारी काॅलाेनी का है, यहां कुछ घराें में चंबल का पानी पहुंच रहा, लेकिन तीन गलियाें के लाेगाें काे पानी नहीं मिला ताे उन्हाेंने चंबल प्राेजेक्ट व जलदाय विभाग में जलापूर्ति शुरू करने के लिए कहा। सुनवाई नहीं हुई ताे तीनाें गलियाें के लाेगाें ने मिलकर राशि एकत्र की तथा पाइप लाइन डलवा पानी लेना शुरू कर दिया।

वादाखिलाफी परिषद चुनाव में किया वादा पर किसी ने नहीं सुना...वार्ड 69 की इस काॅलाेनी में नगर परिषद चुनाव के बाद गर्मी शुरू हाेते ही पानी की आवश्यकता हुई ताे उन्हाेंने चंबल प्राेजेक्ट व जलदाय विभाग पहुंच पाइप लाइन डाल पानी पहुंचाने की बात कही, लेकिन सुनवाई नहीं हुई ताे तीनाें गलियाें के लाेगाें ने रुपए एकत्र किए तथा खुदाई करवा निजी पाइपलाइन डालकर वहां से मिलान कर पानी लेना शुरू कर दिया।

एकजुटता चार-चार हजार रुपए एकत्रित किए...तीनाें गलियाें के लाेगाें ने चार-चार हजार रुपए एकत्र कर जेसीबी से खुदाई करा 3 इंची पाइपलाइन डलवा कनेक्शन करवाए हैं। वार्ड 69 के कांग्रेस पार्षद प्रत्याशी हिमांशु शर्मा का कहना है कि छाट के सगसजी वाली गली तथा 100 फिट राेड के पास दाे साल पहले डाली गई पाइप लाइन का अभी तक मिलान नहीं हाेने से वे लाेग अभी भी चंबल के पानी का इंतजार कर रहे हैं।

यूआईटी ने एनओसी दी या नहीं जांच करेंगे

लाेगाें की और से राशि एकत्र कर अपने स्तर पर पाइप लाइन डलवाने की जांच करवाई जाएगी। यहां पहले पाइप लाइन किसने डाल रखी, इसका भी पता किया जाएगा। नई काॅलाेनियाें में चंबल परियाेजना द्वारा ही पाइप लाइन डाली गई। यहां लाइन चंबल परियाेजना या जलदाय विभाग ने डाली इसका पता लगाएंगे। यूआईटी ने भी कई काॅलाेनियाें में पाइप लाइन डाल रखी, जहां चंबल का पानी नहीं पहुंच रहा है।
संतपाल सिंह, एक्सईएन पीएचईडी

बिहारी काॅलाेनी में निजी पाइप लाइन डाली गई है ताे उसे दिखवाएंगे। यूआईटी ने एनओसी दी या नहीं, इसका पता किया जाएगा। श्रीनगर में ऐसा करने की जानकारी सामने आई थी, उसे कटवा चुके हैं। बिहारी काॅलाेनी में पाइप लाइन डालने के बाद उसका मिलान करने वालाें का पता लगाया जाएगा। परियाेजना का काम समाप्त हाे गया, ऐसे में हम पाइप लाइन नहीं डाल सकते, केवल डाली गई पाइप लाइनाें के रखरखाव का काम ही कर रहे हैं।

वीके गर्ग, एक्सईएन, चंबल प्राेजेक्ट

​​​​​​​अनदेखी अधिकारियाें ने नहीं सुना ताे डलवाई पाइप लाइन...बिहारी काॅलाेनी के संपत कुमार, गाेविंद व रमेशचंद्र आदि का कहना हैं कि काॅलाेनी के कुछ क्षेत्राें में चंबल का पानी पहुंच रहा है, लेकिन उनके घराें की तरफ तीन गलियाें में पाइप लाइन नहीं डली हाेने से पानी नहीं मिल रहा। इससे चंबल प्राेजेक्ट व जलदाय विभाग काे अवगत भी कराया गया। इसके बावजूद सुनवाई नहीं हुई।

खबरें और भी हैं...