शिक्षा के मंदिर में यह शर्मनाक है:आठवीं की छात्रा से शिक्षक ने अश्लील हरकत की वार्डन व प्रिंसिपल ने बच्ची को नसीहत दी- चुप रहो

कनेछन कलां2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्कूल के बाहर जमा भीड़। - Dainik Bhaskar
स्कूल के बाहर जमा भीड़।
  • छात्रा कस्तूरबा छात्रावास में रहती थी, माता-पिता मिलने आए तो फफक पड़ी

सरकारी स्कूलों में छात्राओं से छेड़छाड़ की घटनाएं थम नहीं रही हैं। जिले में दो माह में ऐसी तीसरी घटना मंगलवार काे सामने आई। शाहपुरा ब्लॉक के कनेछन कलां केजीबीवी छात्रावास में रहकर राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में पढ़ने वाली 8वीं की छात्रा के साथ 2 दिसंबर को शिक्षक ने अश्लील हरकतें की। छात्रा ने शिकायत महिला वार्डन व प्रधानाचार्य से की, जिन्हाेंने छात्रा को नसीहत देते हुए मामले पर पर्दा डालने का प्रयास किया।

प्रधानाचार्य ने अधिकारियों को भी इसकी जानकारी नहीं दी। परिजन बेटी से मिलने पहुंचे तब बेटी शिक्षक भागचंद खटीक की हरकत बताते हुए राेने लगी। मामला सामने आया ताे लाेग आक्रोशित हाे गए और स्कूल के बाहर भीड़ एकत्र हाे गई। आक्रोश बढ़ता देख आरोपी शिक्षक भागचंद खटीक, प्रधानाचार्य हेमराज रैगर व केजीबीवी वार्डन सीमा भांबी को हटाने का आदेश दिया। तीनों आरोपियों को शाहपुरा ब्लॉक कार्यालय में उपस्थित होने के निर्देश दिए। सूचना पर फूलिया कलां एसडीएम राजकेश मीणा, डीएसपी प्रियंका कुमावत, तहसीलदार नारायणलाल जीनगर, घनश्याम सिंह, मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी महावीर शर्मा एवं थानाप्रभारी रामपाल विश्नोई मौके पर पहुंचे। पुलिस उपाधीक्षक प्रियंका कुमावत ने बताया कि परिजनों की रिपोर्ट पर पॉक्सो में केस दर्ज कर जांच शुरू की है।

दुस्साहस... जिले के सरकारी स्कूलों में 2 माह में छेड़छाड़ की तीसरी घटना

बालिकाओं से स्कूल में छेड़छाड़ की घटना को लेकर विभागीय अधिकारी कितने संवेदनशील हैं इसकी बानगी जिले में पहले हाे चुकी दो घटनाओं से पता लगती है। बदनाैर पंचायत समिति के भादसी स्कूल में छात्रा से छेड़छाड़ की जांच 14 अक्टूबर को शंभूगढ़ सीनियर स्कूल के प्रधानाचार्य लोकेशचंद्र नागला को सौंपी थी। मामले में वरिष्ठ अध्यापक राजेश मीणा को निलंबित किया गया। लेकिन जांच रिपोर्ट विभाग को नहीं मिली। इसी प्रकार, मांडल ब्लॉक के शिवपुर विद्यालय में छात्रा से छेड़छाड़ की जांच ब्लॉक शिक्षा अधिकारी मधु सामरिया को दी। एक माह बाद भी रिपोर्ट विभाग को प्राप्त नहीं हुई और अब तीसरी घटना सामने आ चुकी है।

स्कूल की कमेटी ने भी नहीं दी जांच रिपाेर्ट

छात्रा की शिकायत के बाद प्रधानाचार्य ने स्कूल की तीन सदस्यों की जांच कमेटी गठित की। लेकिन, कमेटी ने मामले की गंभीरता से नहीं लिया। सदस्यों ने जांच में लापरवाही बरतते हुए रिपोर्ट प्रधानाचार्य काे देना ही उचित नहीं समझा।

छात्रा से छेड़छाड़ की सूचना मिलते ही अधिकारियों को मौके पर भेजा। आराेपी शिक्षक, वार्डन व प्रिंसिपल को विद्यालय से तत्काल हटाकर शाहपुरा बीईईओ ऑफिस में उपस्थित होने के निर्देश दिए। निदेशालय ने भी रिपोर्ट तलब की है। जल्द रिपोर्ट भेजी जाएगी। ब्रह्माराम चौधरी, सीडीईओ

​​​​​​​छात्राओं कानाराम, निदेशक, माध्यमिक शिक्षा

खबरें और भी हैं...