पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हादसा:तेज हवा से अस्पताल में तारों पर गिरा पेड़, गनीमत यह कि बिजली गई नहीं

भीलवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एमजीएच में बिजली लाइन पर गिरे पेड़ को क्रेन से हटवाते डॉ. गौड़। - Dainik Bhaskar
एमजीएच में बिजली लाइन पर गिरे पेड़ को क्रेन से हटवाते डॉ. गौड़।
  • आक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनों वाले रोगियों को सिलेंडर पर लेकर शटडाउन लिया, तब वापस मरम्मत की गई

महात्मा गांधी चिकित्सालय में आंखों के आपरेशन थियेटर के सामने बिजली लाईन पर पेड़ गिर गया, गनीमत रही कि बिजली का तार नहीं टूटा नहीं कोरोना का उपचार करवा रहे मरीजों की जान पर भी आ सकती थी।

सूचना पर निगम के अधिशासी अभियंता टीम सहित मौके पर पहुंचे पेड़ को हटाने के लिए कम से कम दस से पंद्रह मिनट बिजली बंद करने की आवश्यकता जताई, लेकिन वर्तमान परिस्थिति में अस्पताल में भर्ती गंभीर कोविड रोगियों जो कि वेंटिलेटर तथा आक्सीजन सपोर्ट सिस्टम पर होने से कार्य काफी चुनौती पूर्ण था परंतु आवश्यक भी था काफी सारे रोगी बिजली से चलने वाले आक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन पर थे ऐसे सभी रोगियों को आक्सीजन सिलेंडर लगाकर आक्सीजन दी गई।

इसके बाद बिजली का शटडाउन लेकर लाइन पर गिरे पेड़ को हटाया गया। इस दौरान अस्पताल के विभिन्न वार्डों में सभी चिकित्सक तथा नर्सिंग कर्मचारियों को अलर्ट मोड पर रखकर किसी भी तरह की संभावित समस्या के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए। इस दौरान एसडीएम ओम प्रभा, पीएमओ डॉ. अरुण गौड़, महात्मा गांधी चिकित्सालय नर्सिंग अधीक्षक मौके पर मौजूद रहे।

बिजली लाइन पर पेड़ गया था जिसे ठीक करवा दिया गया है। ये अच्छी और बिजली नहीं गई। इससे कोई परेशानी नहीं आई। निगम की टीम ने शटडाउन लिया तब तक मरीजों को आक्सीजन सिलेंडर लगाकर आक्सीजन दी गई।
डॉ. अरुण गौड़, पीएमओ, महात्मा गांधी अस्पताल

खबरें और भी हैं...