हादसे को न्यौता:शाहपुरा में 4 दशक पुराना हो चुका महाविद्यालय का भवन, आरसीसी से सरिए निकले बाहर

शाहपुरा (भीलवाड़ा)9 दिन पहले

शाहपुरा में प्रताप सिंह बारहठ राजकीय महाविद्यालय का भवन करीब 4 दशक पुराना है। जिसमें लंबे समय से मरम्मत नहीं होने की वजह से महाविद्यालय के बरामदे सहित कई स्थानों पर छज्जा गिर चुके हैं। और प्लास्टर टूटने से आरसीसी के सरिए निकल चुके है। महाविद्यालय परिसर में यदा-कदा प्लास्टर टूट कर गिर जाता है। गनीमत अभी तक रही है कि किसी छात्र के कोई गंभीर चोट नहीं लगी है। वहीं महाविद्यालय प्रशासन ने महाविद्यालय परिसर में एक पर्चा भी चस्पा कर रखा है। जिसमें क्षतिग्रस्त क्षेत्र में जाने के लिए छात्रों को मना किया गया है।

टंकियों में फैली गंदगी
वहीं शौचालय मे भी काफी अव्यवस्था है। टंकीयों में पानी नहीं होने की वजह से गंदगी फैली हुई है। छात्र-छात्राओं को इसकी वजह से काफी परेशानी उठानी पड़ती है। शौचालय की सीटें गंदगी से भरी हुई है। जिनकी काफी लंबे समय से कोई साफ सफाई नहीं हो पाई है।

अभी तक नहीं हो सकी मरम्मत
खासतौर से छात्राओं को शौचालय जाने में काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। इसको लेकर विभिन्न छात्र संगठनों ने कई दफा महाविद्यालय प्रशासन को सूचना दी।बावजूद इसके कॉलेज प्रशासन की लापरवाही के चलते आज तक इनकी मरम्मत नहीं हो पाई है। छात्र नेता जयंत जीनगर ने बताया कि महाविद्यालय में मरम्मत कराने की मांग को लेकर कई दफा प्रशासन स्तर पर अवगत कराया गया मगर आज तक छात्रों की सुनवाई नहीं हुई है। कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। वहीं उन्होंने बताया कि महाविद्यालय में तेज गर्मी को देखते हुए पानी की भी पर्याप्त व्यवस्था नहीं है।

खबरें और भी हैं...