कोर्ट ने सुनाई सजा:4 लोगों को 5 साल की सजा; जमीन विवाद में 10 साल पहले युवक को घेरकर दोनों पैर तोड़ दिए थे

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

करीब 10 साल पहले जमीन विवाद के कारण एकराय होकर जोधपुर बाइपास पहुंचे लोगों ने एक शख्स पर जानलेवा हमला कर उसके पैर तोड़ दिए थे। अपर सत्र न्यायाधीश संख्या चार रामअवतार सोनी ने इस मामले में चार लोगों को दोषी मानकर पांच साल की सजा सुनाई है। प्रत्येक आरोपी को 10,000 रुपए का अर्थदंड भी भुगतना होगा।

पीबीएम अस्पताल में भर्ती परिवादी जीसुखराम ने 20 जून, 11 को पुलिस को पर्चा बयान में बताया था कि उसका जमीन का विवाद चल रहा है। पांचू में बंधाला निवासी प्रेम उर्फ प्रेमरतन, रानीबाजार निवासी श्यामलाल, जयसिंगदेसर निवासी भगवानाराम और गंगाशहर निवासी ओमप्रकाश ने जोधपुर बाइपास पर उसे रोक लिया और जानलेवा हमला कर दोनों पैर तोड़ दिए।

गंगाशहर थाने में मुकदमा दर्ज हुआ और पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में चालान पेश कर दिया। कोर्ट ने मामले की सुनवाई के बाद आरोपियों को दोषी माना और पांच साल की सजा सुनाई। आरोपियों की ओर से अर्थदंड जमा नहीं करवाने पर एक माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। अभियोजन पक्ष की ओर से कोर्ट में 14 गवाहों के बयान हुए। राज्य की ओर से पैरवी धीरज चौधरी ने की।

खबरें और भी हैं...