पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

RBSE ने रिजल्ट के लिए शुरू की तैयारी:CBSE के बाद RBSE के 10वीं व 12वीं स्टूडेंट्स की मार्किंग के लिए 12 सदस्यीय कमेटी बनी, एक सप्ताह में देगी रिपोर्ट

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

CBSE की तर्ज पर RBSE ने भी मार्किंग के लिए पॉलिसी बनाने के लिए समिति का गठन कर दिया है। यह समिति एक सप्ताह के भीतर अपनी रिपोर्ट पेश करेगी और इसी आधार पर स्टूडेंट्स को मार्किंग दी जाएगी। CBSE की तरह ही एक फॉर्मूला तैयार किया जाएगा।

प्रमुख शासन सचिव की ओर से गठित इस समिति में माध्यमिक शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी को अध्यक्ष, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर के सचिव को सदस्य सचिव बनाया गया है। इसके लिए शासन उप सचिव रामानन्द शर्मा, सचिव अनिता मीना, राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद् की संयुक्त निदेशक ममता दाधीच, उदयपुर स्थित RSCERT के प्रोफेसर प्रथम ललित शंकर आमेटा, माध्यमिक शिक्षा के उप निदेशक अरुण शर्मा, जयपुर के जिला शिक्षा अधिकारी रामचंद्र पिलानिया, जयपुर की महात्मा गांधी स्कूल की प्रधानाचार्य अन्नू चौधरी, माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के शैक्षिक प्रकोष्ठ अधिकारी प्रमोद कुमार चमोली को शामिल किया गया है। इसके अलावा शिक्षा विद के तौर परश्रीमती सुदर्शन कुलहार और निजी स्कूल प्रतिनिधि के तौर पर शिक्षा मंत्री के क्षेत्र से रामनिवास ढाका को सदस्य बनाया गया हैं।

आरबीएसई के सामने ये होगी चुनौती

दरसअल, CBSE ने दसवीं व बारहवीं कक्षा का प्री बोर्ड एग्जाम पिछले सेशन में लिया था। इसके विपरीत राजस्थान शिक्षा विभाग ने तीन महीने स्कूल लगने के बाद भी एग्जाम नहीं लिया। ऐसे में CBSE की तरह पिछली तीन कक्षाओं के आधार पर परिणाम देना मुश्किल होगा।

क्या RBSE कर पाएगा CBSE की नकल? CBSE का क्था था फॉर्मूला? वीडियो में देखिये, रिजल्ट बनाने की पूरी कहानी। कितनी मुश्किल है राजस्थान बोर्ड के सामने

खबरें और भी हैं...