पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • After The Death Of The Councilor's Husband, The Councilors Got Angry After Getting A Clean Chit To The Power Company, The Councilors Got Ink On The Face Of The COO

कंपनी के मेन ऑफिस पर किया प्रदर्शन:पार्षद पति की मौत के बाद बिजली कंपनी को क्लीन चिट मिलने से गुस्साएं पार्षदाें ने सीओओ के मुंह पर स्याही पाेती

बीकानेर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बिजली कंपनी कार्यालय पर प्रदर्शन करते पार्षद। - Dainik Bhaskar
बिजली कंपनी कार्यालय पर प्रदर्शन करते पार्षद।
  • पार्षदाें ने बीकेईएसएल कंपनी के मेन ऑफिस पर किया प्रदर्शन, सीओओ पार्षदाें काे दे रहे थे जवाब, तब हुई घटना

कांग्रेस पार्षद के पति की करंट से हुई माैत के बाद परिवार काे न्याय दिलाने काे लेकर पार्षदाें ने साेमवार सुबह बीकेईएसएल कंपनी के पवनपुरी स्थित कार्यालय पर प्रदर्शन किया। दाे दिन पहले सहायक विद्युत निरीक्षक ने रिपाेर्ट जारी कर में मौत का कारण विद्युत आपूर्ति से कम वोल्टेज की सप्लाई हाेना बताया था। बिजली कंपनी काे क्लीनचिट दी, जिससे गुस्साएं पार्षद कंपनी के हैड ऑफिस पहुंचे। पार्षदाें के शिष्टमंडल काे कंपनी अधिकारियाें ने वार्ता के लिए चैंबर में बुलाया, लेकिन तैयार नहीं हुए। पुलिस की समझाइश भी विफल रही।

पार्षदों का आरोप था कि पार्षद पति की मौत कंपनी की ओर से गलत सप्लाई के कारण हुई है। इस बीच वार्ता के लिए ऑफिस से बाहर आए सीओओ शांतनु भट्‌टाचार्य विरोध कर रहे पार्षदाें को जवाब दे रहे थे। तभी पार्षदाें ने अचानक स्याही उनके मुंह पर पाेत दी। घटनाक्रम के बाद सीओओ घबरा गए। कंपनी के कर्मचारी उन्हें अंदर ले गए। यह सारा घटनाक्रम जेएनवीसी पुलिस की माैजूदगी में हुआ।

पार्षद मनाेज बिश्नाेई ने बताया कि मृतक मघाराम की बेटी गरिमा का दाे दिन पहले उनके पास फाेन आया। परिजनाें ने उन्हें अवगत करवाया कि गंगाशहर थाने में मामला दर्ज करवाने के बावजूद अभी तक उन्हें न्याय नहीं मिला है। कंपनी काे क्लीनचिट तक मिल चुकी है। फिर मृतक के पिता व ससुर ने भी न्याय दिलवाने का आग्रह किया। उसके बाद उन्हाेंने इस मामले में कंपनी के सीओओ भट्टाचार्य से बातचीत की। परिजनाें काे न्याय नहीं मिलता देख पार्षद भड़क गए। उन्हाेंने कंपनी के खिलाफ नारेबाजी करते हुए अधिकारियाें काे बीकानेर छाेड़कर जाने काे कहा। पार्षद बिश्नाेई ने बताया कि कंपनी ने मनमानी बंद नहीं की ताे जल्द बीकानेर बंद का आह्वान किया जाएगा। इसे लेकर व्यापारियाें व शहर की पब्लिक से संपर्क जारी है। विरोध करने वालों में कांग्रेस मनोनीत पार्षद आजम अली, पार्षद महेंद्र बड़गुजर, पार्षद चेतना चौधरी, अनूप गहलाेत, वसीम फिराेज, प्रफुल्ल हटीला आदि थे।

यह है मामला : बीकानेर के गंगाशहर में वार्ड-5 की पार्षद कुसुम भाटी के पति ने एक रिसोर्ट शुरू किया था। उद्घाटन के कुछ दिन बाद ही पार्षद के पति मघाराम भाटी रिसोर्ट में खराब हुए बिजली उपकरण को चेक कर रहे थे। तभी उन्हें करंट लगा। उनकी माैके मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि बिजली कंपनी की सप्लाई में गड़बड़ी से मघाराम भाटी को करंट लगा। घटना काे लेकर गंगाशहर थाने में मामला दर्ज करवाया गया, जिसकी जांच चल रही है। इससे पार्षद संतुष्ट नहीं हैं। इसका विरोध करते हुए पार्षद सोमवार सुबह बिजली कंपनी के मेन ऑफिस पहुंचे थे।

सहायक विद्युत इंस्पेक्टर ने माना हादसा बीकेईएसएल की विद्युत आपूर्ति से नहीं हुआ

पार्षद के पति की मौत के मामले में जयपुर से आए सहायक विद्युत इंस्पेक्टर ने पुलिस व जोधपुर डिस्कॉम के अधिकारियों की मौजूदगी में घटना स्थल का मुआयना और सर्विस केबल, मीटर की स्थिति व मीटर की एमआरआई कराई। उन्होंने अन्य कई जांचे की। इसके बाद सहायक विद्युत इंस्पेक्टर ने रिपोर्ट में माना है कि हादसा बीकेईएसएल की विद्युत आपूर्ति से नहीं हुआ है। विद्युत निरीक्षण निदेशालय एक स्वतंत्र विभाग है। इसी के सहायक विद्युत निरीक्षक ने जयपुर से आकर जांच कर रिपोर्ट जारी की है। इनकी रिपोर्ट को ही अधिकृत माना जाता है। साेमवार काे पार्षद बात करने आए थे। उनकी पूरी बात सुनी जा रही थी।- अशोक शर्मा, कम्युनिकेशन ऑफिसर, बीकेईएसएल

पार्षदाें के खिलाफ गाली-गलाेच और मारपीट का केस दर्ज

बिजली कंपनी के सीओओ ने पार्षद मनाेज बिश्नाेई, महेंद्र बड़गुजर, आजम खां, पारस मारू, सुरेंद्रसिंह डाेटासरा, नंदू गहलाेत समेत 15-20 कांग्रेसियाें के खिलाफ गाली-गलाेच, मारपीट व मुंह पर स्याही पाेतने के आराेप में मामला दर्ज करवाया है। पवनपुरी में रहने वाले सीओओ भट्टाचार्य ने पुलिस काे बताया कि पार्षद पति की माैत के प्रकरण में मुआवजा की मांग काे लेकर कांग्रेसी पार्षद वार्ता के लिए पवनपुरी स्थित कंपनी के ऑफिस में आए।

ऑफिस के बाहर नारेबाजी के बाद जब सुनवाई के लिए वह नीचे आए ताे पार्षदाें ने गाली गलाेच करते हुए धक्का-मुक्की की। इसी बीच पार्षद महेंद्र बड़गुजर ने बीच में आकर काली स्याही उनके चेहरे पर उड़ेल दी। पार्षद आजम खां ने उन्हें पकड़ लिया। मुंह व कपड़ाें पर स्याही मल दी। दोनों पार्षदों ने उनसे मारपीट की। पार्षद सुरेंद्रसिंह डाेटासर ने लिफ्ट के गेट पर पैर माकर उसे खराब कर दिया ताकि वह ऑफिस में न जा सके। पुलिस ने आराेपियाें के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...