• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Allegation Of Disturbances In The Transaction Of Guar, BJP Leader Lodged FIR Against The Younger Brother Of Deshnok Municipality President And Son Of BJP Leader

देशनोक पालिकाध्यक्ष के भाई पर FIR:ग्वार के लेनदेन में गड़बड़ी का आरोप, भाजपा नेता ने देशनोक पालिकाध्यक्ष के छोटे भाई और भाजपा नेता के पुत्र पर दर्ज कराई FIR

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ग्वार की खरीद और वेयर हाउस में गड़बड़ी करने के मामले में दो राजनीतिक दलों के नेता आमने सामने हो गए हैं। भाजपा नेता मंडी व्यापारी मोहन सुराना ने कांग्रेस पार्टी से देशनोक पालिकाध्यक्ष ओमप्रकाश मूंधड़ा के छोटे भाई पर FIR दर्ज करा दी है। इसी मामले में नोखा के भाजपा नेता श्रीनिवास झंवर के बेटे महेश झंवर पर भी आरोप लगाए गए हैं।

बीछवाल थाने में दर्ज FIR में षड्यंत्रपूर्वक जानबूझकर 50.20 टन ग्वार खुर्दबुर्द करने का आरोप लगाया गया है। भाजपा नेता मोहन सुराणा ने नोखा एग्रो सर्विस प्रा ली के मालिक महेश झंवर व मैनेजर अशोक मूंधड़ा के खिलाफ नामजद मामला दर्ज करवाया है। जिन पर आरोप लगे हैं, वो दोनों ही बीकानेर के प्रमुख राजनीतिक परिवार से जुड़े हैं। महेश झंवर नोखा नगरपालिका के पूर्व चैयरमेन श्रीनिवास झंवर के बेटे हैं जबकि अशोक मूंधड़ा देशनोक नगरपालिका के चैयरमेन ओमप्रकाश मूंधड़ा के छोटे भाई है। मूंधड़ा कांग्रेस से पालिकाध्यक्ष है।

क्या है मामला

FIR में आरोप है कि बीकानेर मंडी के व्यापारी व राजनेता मोहन सुराणा ने दिसंबर 2020 में अपना खरीदा हुआ 620 बैग ग्वार जो 162.700 टन था, उसे नोखा एग्रो सर्विस प्राइवेट लिमिटेड के वेयर हाउस में रखवाया था। माल की सुरक्षा लिए किराया नियमित तीन-तीन माह से 21 हज़ार 984 रुपए का भुगतान किया गया। पिछले 28 अगस्त को ग्वार के अच्छे भाव आने पर सुराणा ने ग्वार बेच दिया। बेचा हुआ ग्वार जब खरीददार फर्म के मैनेजर राहुल बुच्चा वेयर हाउस पर ग्वार लेने गए तो वहां पर ग्वार बेग फटे हुए थे व ग्वार बिखरा पड़ा था। आरोप है कि जब इसकी शिकायत वेयर हाउस फर्म के मैनेजर अशोक मूंधड़ा से की तो मूंधड़ा ने कहा कि दूसरे बेग में माल भर लो। पूरा माल भरकर वजन करने पर वजन 157.860 टन हुआ जो रखे गए 162.700 टन के मुकाबले 5.020 टन कम निकला। इस पर मैनेजर अशोक मूंधड़ा ने कहा कि कम हुए ग्वार के बदले ग्वार या क्लेम चार-पांच दिन में दे देंगे। यही बात मालिक महेश झंवर ने कही। 14 सितम्बर को यही बात दोहराई गई। 20 सितम्बर को दोनों ने बकाया ग्वार देने से इनकार कर दिया।

कंटेंट : लक्ष्मीनारायण, देशनोक

खबरें और भी हैं...