पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पूरब पर पश्चिम भारी:मंत्री की 22 सड़कों को मंजूरी निगम-यूआईटी की बता सिद्धि के 4 रोड ही पास किए

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भाजपा नेताओं ने इस मुद्दे पर पीडब्ल्यूडी एसई डीपी सोनी का घेराव कर जवाब तलब किया। इस बीच सोनी ऑफिस छोड़ चले गए। - Dainik Bhaskar
भाजपा नेताओं ने इस मुद्दे पर पीडब्ल्यूडी एसई डीपी सोनी का घेराव कर जवाब तलब किया। इस बीच सोनी ऑफिस छोड़ चले गए।
  • सभी विधान सभाओं में सीएम द्वारा सड़कों के 5 करोड़ देने का मामला
  • भाजपा ने इस मुद्दे पर पीडब्ल्यूडी एसई को घेरा तो वे ऑफिस छोड़ गए

पांच करोड़ की नॉन पैचेबल-मिसिंग लिंक रोड हर विधानसभा क्षेत्र में बनाने की बजट घोषणा में राजनीतिक खेल का आरोप लगा भाजपा विरोध में उतर आई। बीकानेर शहर के पूर्व विधानसभा क्षेत्र में महज 1.35 करोड़ से चार सड़कें मंजूर करने और मंत्री बीडी कल्ला के पश्चिम क्षेत्र में लगभग साढ़े चार करोड़ की 22 सड़कें स्वीकृत करने को खुले तौर पर राजनीतिक भेदभाव बताया।

भाजपा नेताओं ने इस मुद्दे पर पीडब्ल्यूडी एसई डीपी सोनी का घेराव कर जवाब तलब किया। इस बीच सोनी ऑफिस छोड़ चले गए। ऐसे में बिफरे नेताओं के तेवर तल्ख हो गए। स्थिति संभालने एडिशनल चीफ इंजीनियर सुधीर माथुर को मौके पर आए। उन्होंने आक्रोशित नेताओं के सामने ही जयपुर मुख्यालय बात की। उन्हें आश्वस्त किया कि इस मद में घोषित सड़कें संबंधित विधानसभा क्षेत्र में विधायक की अनुशंसा पर ही बनेंगी। बाकी सड़कों की वित्तीय स्वीकृति भी जल्द मिल जाएगी।

इसके बावजूद नेताओं ने दोनों क्षेत्रों में भेदभाव का आरोप लगाया। कहा, बीकानेर पूर्व की विधायक ने जो प्रस्ताव दिए थे उन्हें यह कहते हुए रोक दिया कि इनमें से नगर निगम और यूआईटी क्षेत्र की सड़कें हैं, जो पीडब्ल्यूडी नहीं बनाएगा। इससे इतर पश्चिम विधानसभा में ऐसी सड़कें बनाना शामिल हैं।

बातचीत के दौरान तय हुआ कि भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल पीडब्ल्यूडी के अधिकारी के साथ शहर की स्वीकृत सड़कों की वास्तविक स्थिति देखेगा। इस दौरान शहर भाजपा अध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य डाॅ. सत्यप्रकाश आचार्य, महामंत्री मोहन सुराणा, उपाध्यक्ष अशोक प्रजापत, अरुण जैन, सुधीर व्यास आदि मौजूद रहे।

आरोप - पूर्व विधायक ने 17 प्रस्ताव दिए थे जिसमें से 4 ही माने, कल्ला के इलाके में निगम-न्यास एरिया की सड़कें भी बनेंगी

जो सड़कें अभी बनी हैं, उन्हें मंजूरी कैसे..ये भ्रष्टाचार नहीं तो क्या है: भाजपा अध्यक्ष

^भेदभाव का सवाल लेकर गए थे, लेकिन अधीक्षण अभियंता उत्तेजित होकर सीट छोड़ गए। पश्चिम में जो सड़कें मंजूर की गई हैं वैसी ही सड़कों पर पूर्व के प्रस्तावों में आक्षेप लगा दिए। पश्चिमी में उन सड़कों को भी फिर से बनाने की घोषणा हुई जिनके हाल ही पैचवर्क हुए हैं या बन चुकी है। भ्रष्टाचार की आशंका है। मीटिंग में तय हुआ कि हम अफसरों के साथ सड़कों का मुआयना करेंगे।
-अखिलेशप्रतापसिंह, अध्यक्ष शहर भाजपा
घोषित कामों में भेदभाव का आरोप गलत, साथ जाकर परीक्षण कराएंगे: पीडब्ल्यूडी

मैंने उन्हें बताया है कि अभी पूरी स्वीकृति नहीं आई है। बजट में घोषित पांच करोड़ उसी विधानसभा क्षेत्र में विधायक की अनुशंसा पर ही लगेंगे। इसके लिए कलेक्टर की अध्यक्षता में कमेटी भी बनी है। मुख्यालय बात भी की है। बचे हुए प्रस्तावों पर जल्द मंजूरी मिलने की उम्मीद है। घोषित कामों में भेदभाव के आरोप पर परीक्षण करवाने को कह दिया है।
-सुधीर माथुर, एडिशनल चीफ इंजीनियर पीडब्ल्यूडी

खबरें और भी हैं...