पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Arjun Ram, Now Minister Of State For Culture With Parliamentary Work, Was Waiting For The Glory Of Bikaneri Turban To Increase But Neither Name In Cabinet, Nor Independent Charge

मोदी मंत्रिमंडल विस्तार:अर्जुनराम अब संसदीय कार्य के साथ संस्कृति राज्यमंत्री, बीकानेरी पगड़ी की शान बढ़ने का था इंतजार लेकिन न कैबिनेट में नाम, न स्वतंत्र प्रभार

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तीन बार के सांसद और तीन विभागों में राज्यमंत्री रह चुके बीकानेर के अर्जुनराम मेघवाल का कैबिनेट में नाम शामिल नहीं हुआ।  - Dainik Bhaskar
तीन बार के सांसद और तीन विभागों में राज्यमंत्री रह चुके बीकानेर के अर्जुनराम मेघवाल का कैबिनेट में नाम शामिल नहीं हुआ। 
  • लगातार तीसरी बार सांसद अर्जुनराम मेघवाल को परफॉर्मेंस का पुरस्कार मिलने की थी उम्मीद

मोदी 2.0 सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में बीकानेरी पगड़ी की शान बढ़ने का इंतजार होता रहा लेकिन तीन बार के सांसद और तीन विभागों में राज्यमंत्री रह चुके बीकानेर के अर्जुनराम मेघवाल का कैबिनेट में नाम शामिल नहीं हुआ। बीकानेर के भाजपा खेमों सहित शहर के लगभग हर हिस्से में पिछले दो दिनो से अर्जुन के कद के साथ बीकानेर का मान बढ़ने का कयास लगाया जा रहा था।

कई मीडिया रिपाेर्ट्स में इसके संकेत भी मिले लेकिन दोपहर बाद जारी हुई सूची में मेघवाल का नाम न होने से एकबारगी समर्थकों में थोड़ी निराशा दिखी। राहत यह जरूर रही कि जब कई बड़े मंत्रियों को मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया गया उसके बावजूद मेघवाल को बरकरार रखे जाने का मतलब परफाॅर्मेंस पर संतुष्टि है।

ऐसे में उम्मीद यह लगाई गई कि मेघवाल के मंत्रालय में बड़ा बदलाव किया जा सकता है। संभावना स्वतंत्र प्रभार की भी जताई गई। देर रात राष्ट्रपति कार्यालय ने नए पोर्टफोलियो की सूची जारी की तो यह उम्मीद भी जाती रही। अलबत्ता, मंत्रालय में फेरबदल जरूर हुआ है। मेघवाल को अब संसदीय कार्य के साथ सांस्कृतिक मंत्रालय में राज्यमंत्री का जिम्मा मिला है। मेघवाल इससे पहले वित्त एवं कार्पोरेट, जल संसाधन मंत्रालय में राज्यमंत्री की जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

इसलिए प्रमोशन की उम्मीद लगाए बैठे थे प्रशंसक

  • हटाए गए मंत्रियों में शामिल नहीं मतलब परफाॅर्मेंस पर संतुष्टि।
  • विस्तार में दलित चेहरों पर फोकस, राजस्थान से इकलौते दलित मंत्री होने का मिल सकता था लाभ। बांसवाड़ा जैसे इलाकों में ले रहे इसका उपयोग।
  • पु्ड्डुचेरी जैसे छोटे लेकिन राजनीतिक संकट वाले राज्य में बतौर प्रभारी बेहतर परफॉर्मेंस के साथ सरकार गठन।
  • तीन बार सांसद, लोकसभा में परफॉर्मेंस के कारण बेस्ट सांसद का अवार्ड भी मिला।
  • वित्त, जल संसाधन के बाद भारी एवं लघु उद्योग मंत्रालय में काम का अनुभव।
  • संसदीय कार्यमंत्री के तौर पर सदन में फ्लोर मैनेजमेंट में प्रमुख भूमिका निभाते रहे।