• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Bikaner Young Engineers Friends Who Deliver Food From Door To Door Are Now Giving Week Long Ration To The Needy, Latest News Update

बीकानेर के IIT'ian फ्रेंड्स का एक और प्रयास.:घर-घर भोजन पहुंचाने वाले युवा इंजीनियर्स अब जरूरतमंदों को दे रहे हैं सप्ताहभर का राशन

बीकानेर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राशन सामग्री के साथ मित्र। - Dainik Bhaskar
राशन सामग्री के साथ मित्र।

देश के बड़े शहरों में मल्टीनेशनल कंपनियों में काम करने वाले बीकानेर के IIT'ians कोविड के दौर में "मिशन मदद" को आगे बढ़ा रहे हैं। जो कुछ दिन पहले तक बीकानेर में तीन हजार से ज्यादा फूड पैकेट्स बांट चुके हैं। अब ये फ्रेंड्स गरीब परिवारों को सप्ताह भर का राशन भी पहुंचा रहे हैं। इस दौरान राशन लेने वाले किसी परिवार का न तो फोटो सार्वजनिक कर रहे हैं और न वीडियो। इन दोस्तों की इच्छा है कि ज्यादा से ज्यादा लोग उन तक पहुंचे ताकि जरूरतमंद तक राशन पहुंचाया जा सके।

इस महामारी के दौर में बीकानेर के 7 IITians का ग्रुप इस काम में जुटा हुआ हे। इन दोस्तों ने बताया कि हम पूरी क्षमता के साथ आम आदमी के घर तक निशुल्क राशन पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। जो व्यक्ति अपने घर से बाहर निकल नहीं पा रहा है, लॉकडाउन के चलते जिसे रोटी का जुगाड़ मुश्किल हो रहा है, उन्हें हम एक सप्ताह का राशन देंगे। जरूरत हुई तो उसी परिवार को फिर से राशन देंगे।

पिछले बीस दिन में ये IIT'ians तीन हजार फूड पैकेट्स दे चुके हैं। बीस-तीस फूड पैकेट से शुरू हुआ यह सिलसिला अब हर रोज ढाई सौ पैकेट्स तक पहुंच गया है। भोजन की थाली उन परिवारों को दी जा रही है जो सब होम आइसोलेट है और खाना बनाने की समस्या है। जो लोग कोविड अस्पतालों में भर्ती है, उन तक भी भोजन पहुंचाया जा रहा है। स्टार्क फाउंडेशन और सौरभ गोयल मेमोरियल रिलीफ सोसाइटी से सहयोग लेकर अब हर रोज सैकड़ों लोगों को राशन देने का काम हो रहा है।

9588802638 पर कर सकते हैं व्हाट्सएप

प्रद्युमन सिंह बताते हैं कि अगर किसी व्यक्ति को राशन की जरूरत है तो वो हमें 9588802638 नंबर पर सोशल मीटिया के जरिए मैसेज कर सकता है। इस पर संदेश छोड़ दें, समय के साथ ही उन्हें राशन सामग्री घर पर भेज दी जाएगी। टीम ने पहले चरण में पचास परिवारों तक राशन सामग्री पहुंचाने का लक्ष्य रखा है। जरूरत पड़ी तो इसे बढ़ा भी सकते हैं। IIT'ian दोस्त व अमेरिका रह रहे बीकानेर निवासी प्रियांशु बंसल कहते हैं कि उनके दादा श्याम लाल बंसल ने उन्हें जनसेवा का यह पाठ पढ़ाया था। मुश्किल के वक्त में यह सेवा मैं उनको याद करके ही कर रहा हूं।

ये काम भी कर रहे हैं
इसके अतिरिक्त भी हमारी टीम COVID से लेकर बाकी पहलुओं में भी योगदान देने के लिए समर्पित है । इनमें से कुछ जैसे की प्लाज्मा डोनेशन को लेकर शहर वासियों में जागरूकता लाना, ऑक्सीजन की समस्या, आदि को लेकर समाधान निकालने में हम लोग जुटे हुए हैं।

ये हैं मिशन मदद के सदस्य IIT'ians

प्रद्युम्न सिंह, हिमांशु गोयल, प्रणवेंद्र चतुर्वेदी, मोहित खत्री, अंकिता शुक्ला, समर हल्दे, प्रसून चतुर्वेदी

खबरें और भी हैं...