पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निगम की बजट बैठक कल:बीजेपी पार्षद बोले- ठेकेदार सुनते नहीं, एईएन और जेईएन फोन तक नहीं उठाते

बीकानेर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कांग्रेसी पार्षदों ने बनाई मेयर को घेरने की रणनीति, बोले- निजी तंत्र बनकर रहा गया निगम
  • भाजपा-कांग्रेस पार्षदों ने तैयारी के लिए अलग-अलग बैठकें की

नगर निगम में बीजेपी की बोर्ड बनने के बाद सोमवार को दूसरी बजट बैठक होगी। इस एक साल में साधारण सभा नहीं होने के कारण कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों के पार्षदों ने जनहित के मुद्दों को लेकर तैयारी की है। कांग्रेसी पार्षदों ने मीटिंग करके मेयर को घेरने की रणनीति बनाई है। उधर, बीजेपी के पार्षदों को बजट सर्वसम्मति से पास करने और गरिमा बनाए रखने का संकल्प दिलाया गया है। नगर निगम की पहली बजट बैठक चार फरवरी को हुई थी। उसके बाद सात फरवरी को 17 कमेटियां पास कराने के लिए साधारण सभा हुई, लेकिन हंगामा होने के कारण कुछ ही मिनट में स्थगित कर दी गई। उसके बाद कोरोना संक्रमण के कारण एक भी साधारण सभा नहीं हो सकी। कांग्रेसी पार्षद आशंकित हैं कि इस बजट बैठक के बाद साधारण सभा होगी या नहीं। इसलिए उन्होंने तय किया है कि जनहित के मुद्दों पर चर्चा नहीं हुई तो सदन नहीं चलने देंगे।

बीजेपी पार्षदों का गुस्सा फूटा तो बड़े नेताओं ने शांत कराया

बीजेपी पार्षदों की बैठक मेयर निवास के सामने पार्क में बुलाई गई। वार्डों में विकास कार्यों को लेकर पार्षदों का गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने कहा, सभी वार्डों में 20-20 लाख के टेंडर तो कर दिए लेकिन ठेकेदार काम ही शुरू नहीं कर रहे हैं। एईएन और जेईएन फोन तक नहीं उठाते। अपनी समस्या किसे कहें। वार्डों में अंधेरा रहता है।

सीवरेज सिस्टम खराब पड़ा है। सुपर सकर मशीन शहर की गलियों में जा नहीं पाती। निगम के पास छोटी मशीन नहीं है। गंगाशहर में निगम की जमीन भूमाफिया ने दाब रखी है। उनके विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं की जा रही। पार्षदों के तेवर देख पूर्व शहर अध्यक्ष सत्यप्रकाश आचार्य और मोहन सुराणा खड़े हुए।

उन्होंने पार्षदों को शांत कराते हुए मेयर से कहा कि माह में कम से कम एक बैठक पार्षदों के साथ करें। ताकि उनकी समस्याओं का समाधान हो सके। मेयर सुशीला कंवर ने आश्वस्त किया, यह बजट शहर को स्मार्ट सिटी बनाने की दिशा तय करेगा। इस बार कर्मचारी कल्याण का बजट तैयार किया है।

मेयर ने सुझाव मांगते हुए पार्षदों की समस्याओं का समाधान शीघ्र करने की बात कही। पू्र्व मेयर नारायण चौपड़ा ने बजट बैठक संचालन के अनुभव साझा किए और पार्षदों को नसीहत भी दी। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी पार्षद यदि शोर-शराबा भी करें तो हमें शांत रहना है। बैठक में उप महापौर राजेंद्र पंवार, पुनीत शर्मा, प्रदीप उपाध्याय, बजरंग सौखल, मुकेश पंवार, किशोर आचार्य, सुधा आचार्य, सुमन छाजेड़ आदि मौजूद रहे।

कांग्रेसियों का फैसला

जनहित के मुद्दों पर चर्चा नहीं हुई तो बैठक नहीं होने देंगे
कांग्रेसी पार्षदों ने यूनुस अली के निवास पर बैठक कर तय किया है कि बजट बैठक में जनहित के मुद्दों पर चर्चा नहीं की गई तो बैठक नहीं चलने दी जाएगी। आनंद सिंह सोढ़ा की अध्यक्षता में हुई बैठक में पार्षदों ने मेयर को घेरने की रणनीति बनाई है। तय किया है कि सभी को एकजुट होकर हमलावर रहना होगा।

जावेद पड़िहार ने कहा कि इस एक साल में मेयर द्वारा किए गए कार्यों की पोल खोली जाएगी। मेयर ने आंकड़ों का बजट पेश किया है। रेवेन्यू कलेक्शन में मेयर कमजोर रही है। कांग्रेस के महासचिव सुभाष स्वामी ने कहा कि नगर निगम सरकारी ना होकर निजी तंत्र बनकर रह गया है।

वसूली में भेदभाव किया जाता है। बड़ी मछलियों को छोड़ दिया जाता है। इससे निगम को आर्थिक नुकसान पहुंच रहा है। यूनुस ने कहा कि बजट का परिपत्र सात दिन पहले पार्षदों को भेजना चाहिए। ताकि उन्हें तैयारी करने का समय मिल सके। मनोज बिश्नोई ने कहा कि बजट की खामियां उजागर करेंगे क्योंकि पिछली घोषणाओं पर कोई एक्शन नहीं लिया गया। मीटिंग में शांतिलाल मोदी, पारस मारु, महनाज, ताहिर हसन, मनोज नायक, सुरेन्द्र सिंह, प्रफुल्ल हटीला आदि मौजूद रहेे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें