• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • BJP Leader Is Angry After The Death Of The Councilor Husband, When He Came To Meet The Protesting Leaders, He Put Black Paint On His Face

बिजली कंपनी के COO के चेहरे पर स्याही पोती:पार्षद पति की करंट से हुई मौत के बाद से नाराज थे बाकी पार्षद, बातचीत के लिए बाहर आए तो काली स्याही से रंग दिया

बीकानेर2 महीने पहले
बिजली कंपनी BKESL के COO शांतनु भट्‌टाचार्य।

कांग्रेस पार्षद के पति की पिछले दिनों करंट लगने से हुई मौत का मामला तूल पकड़ लिया है। इससे गुस्साए पार्षदों ने सोमवार को प्राइवेट बिजली कंपनी BKESL (बीकानेर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई लिमिटेड) के COO (चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर) शांतनु भट्‌टाचार्य का मुंह काला कर दिया। दो दिन पहले ही एक रिपोर्ट में बिजली विभाग ने अपनी जांच में कंपनी को क्लीनचिट दी थी। कहा था कि मौत का कारण कंपनी नहीं, स्विमिंग पूल मालिक की ओर से लगाए बिजली उपकरण थे। इस रिपोर्ट के बाद से पार्षद आग-बबूला हैं।

घबरा गए अधिकारी

सोमवार दोपहर करीब आधा दर्जन पार्षद एक साथ BKESL कंपनी पहुंचे। पवनपुरी रोड स्थित कार्यालय पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान COO शांतनु कुमार बातचीत के लिए ऑफिस से बाहर आ गए। पार्षदों का आरोप था कि पार्षद पति की मौत BKESL की ओर से गलत सप्लाई के कारण हुई है। साठगांठ करके फर्जी रिपोर्ट में इसका कारण पार्षद पति को ही बताया जा रहा है। शांतनु भट्‌टाचार्य विरोध कर रहे लोगों को जवाब दे रहे थे कि अचानक स्याही से उनका मुंह काला कर दिया गया। स्याही इतनी ज्यादा थी कि शांतनु का पूरा मुंह काला हो गया। कपड़े भी खराब हो गए। इस पर वो अंदर चले गए। अचानक हुए इस हमले से वो घबरा गए।

पुलिस की मौजूदगी में हुआ

पार्षद और अन्य नेताओं के पहुंचने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची। समझाने का प्रयास किया गया। कहा किया गया एक प्रतिनिधि मंडल आकर बातचीत कर ले। इसके लिए कोई तैयार नहीं हुआ। कोटगेट थाना प्रभारी अरविन्द स्वयं समझाने के लिए आगे आए, पर कोई नहीं माना। विरोध करने वालों में कांग्रेस मनोनीत पार्षद आजम अली, पार्षद महेंद्र बडगुजर, निर्दलीय पार्षद मनोज बिश्नोई, पार्षद चेतना चौधरी आदि थे।

यह है मामला

बीकानेर के गंगाशहर में वार्ड-5 की पार्षद कुसुम भाटी के पति ने एक रिसॉर्ट शुरू किया। इसका उद्घाटन ऊर्जा मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला ने किया। उद्घाटन के कुछ दिन बाद ही पार्षद के पति मघाराम भाटी रिसॉर्ट में खराब हुए बिजली उपकरण को चे कर रहे थे। तभी उन्हें जोर से करंट लगा। वहीं उनकी मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि बिजली कंपनी की सप्लाई में गड़बड़ी होने के कारण मघाराम भाटी को करंट लगा। मामले की जांच चल रही है। इससे पार्षद संतुष्ट नहीं हैं। इसका विरोध करते हुए पार्षद सोमवार को BKESL के COO के कार्यालय पहुंचे थे।

बिजली कंपनी का पक्ष

कम्युनिकेशन ऑफिसर अशोक शर्माा ने बताया कि पार्षद के पति की मौत के मामले में जयपुर से आए सहायक विद्युत इंस्पेक्टर ने पुलिस व जोधपुर डिस्कॉम के अधिकारियों की मौजूदगी में घटनास्थल का मुआयना किया था। सर्विस केबल, मीटर की स्थिति व मीटर की एम आर आई कराई थी। उन्होंने अन्य जांचें भी की थीं। इसके बाद सहायक विद्युत इंस्पेक्टर ने अपनी रिपोर्ट में माना है कि हादसा BKESL की विद्युत आपूर्ति से नहीं हुआ है। विद्युत निरीक्षण निदेशालय एक स्वतंत्र विभाग है। इसी के सहायक विद्युत निरीक्षक ने जयपुर से आकर जांच की और रिपोर्ट जारी की है। इनकी रिपोर्ट को ही अधिकृत माना जाता है। सोमवार पार्षद बात करने आए थे। उनकी पूरी बात सुनी जा रही थी।

खबरें और भी हैं...