पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आरएएस परीक्षा परिणाम:आरएएस में शिक्षा मंत्री डोटासरा के रिश्तेदार के सलेक्शन पर भाजपा नेता ने सवाल खड़े किए

बीकानेर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शेखावत ने आरोप लगाया है कि इस पूरे घटनाक्रम ने राज्य लोक सेवा आयोग की विश्वसनीयता पर प्रश्न चिह्न खड़ा किया है। - Dainik Bhaskar
शेखावत ने आरोप लगाया है कि इस पूरे घटनाक्रम ने राज्य लोक सेवा आयोग की विश्वसनीयता पर प्रश्न चिह्न खड़ा किया है।

भाजपा नेता सुरेंद्र सिंह शेखावत ने शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के निजी रिश्तेदारों को आरएएस परीक्षा में अनुचित लाभ देने का आरोप लगाया है। शेखावत ने आरपीएससी की ओर से आयोजित राज्य प्रशासनिक सेवा परीक्षा के मंगलवार को जारी परिणामों पर गंभीर सवाल उठाए हैं।

उन्होंने ने अपने बयान में कहा है कि कांग्रेस पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष और शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के बेटे अविनाश डोटासरा की पत्नी प्रतिभा पूनिया, उनकी साली प्रभा पूनिया और साले गौरव पूनिया तीनों के ही लिखित परीक्षा में प्राप्तांक 50 फीसदी से कम है। जबकि तीनों को ही साक्षात्कार में एक समान 80-80 अंक देकर अवांछित लाभ पहुंचाया गया है। यह दुर्लभ संयोग कैसे सम्भव है कि तीनों रिश्तेदारों का साक्षात्कार एक जैसा ही हुआ हो। जबकि राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा को टॉप करने वाली मुक्ता राव को साक्षात्कार में 77 अंक ही दिए गए हैं।

इसी तरह राज्य मेरिट में चौथी रेंक प्राप्त करने वाले निखिल को साक्षात्कार में मात्र 67 अंक हासिल हुए हैं। शेखावत ने आरोप लगाया है कि इस पूरे घटनाक्रम ने राज्य लोक सेवा आयोग की विश्वसनीयता पर प्रश्न चिह्न खड़ा किया है।

वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद डोटासरा पर आरोप लगाया है कि उन्होंने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए अपने निजी रिश्तेदारों को सत्ता के दबाव में अनुचित लाभ दिलाया है। इस प्रकार योग्य अभ्यर्थियों के हक पर सीधा-सीधा कुठाराघात किया है। शेखावत ने इस पूरे मामले को पद के दुरुपयोग का मामला मानते हुए राज्य के शिक्षा मंत्री से इस्तीफे की मांग की है।