दीपावली पर सजा बीकानेर:बाजारों में रात बारह बजे तक खरीदारी, बाइक्स, कार, आभूषण और रियल स्टेट में बूम

बीकानेर3 महीने पहले

कोरोना के कारण दो साल तक दीपावली की चमक फीकी रही तो इस बार बीकानेरवासियों ने जमकर खरीदारी की। बीकानेर में बाइक्स, कार, सोने-चांदी के आभूषण के साथ रियल स्टेट में जमकर बूम रहा। हालात ये थे कि दुकानें रात बारह बजे तक खुली रही और देर रात तक व्यापारी हिसाब किताब करते रहे। सोमवार को दीपावली के दिन भी खरीदारी का ये सिलसिला अनवरत जारी रहेगा।

पब्लिक पार्क में लोग परिवार के साथ लाइटिंग देखने पहुंचे।
पब्लिक पार्क में लोग परिवार के साथ लाइटिंग देखने पहुंचे।

सरकारी सजावट पर सेल्फी दौर

जिला प्रशासन की ओर से की गई सजावट इस बार भी दमदार रही। सबसे ज्यादा आकर्षक बीकानेर का कलक्टरी कार्यालय रहा। लाल पत्थर पर लाइट्स का जबर्दस्त इफेक्ट देखने को मिला। जगमग कर रहे कलक्टी परिसर पहुंचकर लोगों ने जमकर सेल्फियां ली। पिछले कुछ साल से कलक्टरी देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। इसी परिसर में महाराजा गंगासिंह की मूर्ति के चारों और आकर्षक सजावट थी। यहां भी सपरिवार पहुंचे लोगों ने सेल्फी ली। कलक्टरी परिसर में आमतौर पर रात को इतनी भीड़ नहीं होती है लेकिन रविवार को यहां पुलिस तैनात करनी पड़ी।

सोशल मीडिया पर अपने फोटो पोस्ट करने के लिए युवाओं ने यहां जमकर फोटोग्राफी करवाई।
सोशल मीडिया पर अपने फोटो पोस्ट करने के लिए युवाओं ने यहां जमकर फोटोग्राफी करवाई।

मुख्यमार्ग पर नहीं थी सजावट

कोटगेट से सार्दुल सिंह सर्किल के बीच में कहीं कोई खास सजावट नहीं थी। पहले प्रशासन आकर्षक सजावट करने वाली दुकानों को पुरस्कार देते थे, ऐसे में जमकर सजावट होती थी। बड़ी संख्या में दुकानें इसी मार्ग पर सजती थी। लोग इन्हीं दुकानों को देखने के लिए आते थे। इसके विपरीत इस बार कोटगेट से सार्दुलसिंह सर्किल के बीच किसी भी व्यापारिक प्रतिष्ठान पर आकर्षक सजावट नहीं थी। अलबत्ता नई बनी सड़क पर अस्थायी दुकानदारों ने जमकर कचरा फैंका। अस्थायी दुकानों के कारण मार्ग पर इतनी भीड़ थी कि पैदल चलने वालों को भी खासी परेशानी हुई।

देर रात तक खरीदारी

बीकानेर के मुख्य बाजारों में रविवार रात बारह बजे तक खरीदारी का दौर चला। रात ग्यारह बजे तक कोटगेट पर ट्राफिक बार बार जाम हो रहा था।अस्थायी दुकानों पर सस्ता सामान खरीदने वालों की भारी भीड़ रही। टी शर्ट, शर्ट, जूतों की बिक्री जमकर हुई। सौ से दो सौ रुपए तक में मिल रहे इस सामान की खरीद के लिए रात बारह बजे तक दुकानों पर भीड़ रही।

परकोटे में भी रौनक

बीकानेर के परकोटे में बसे पुराने शहर की दुकानें भी देर रात तक खुली रही। मोहता चौक में तो रात बारह बजे तक लोग दीपावली का सामान खरीदते नजर आए। यहां तक कि परचून की दुकानें भी देर रात तक खुली रही। दुकानदारों का कहना है कि आर्डर इतने हैं कि देर रात तक ही पूरे किए जा रहे हैं। यहां लाइट्स, दीपावली के सामान, मिठाई की दुकानों पर रात ग्यारह बजे तक भी अच्छी भीड़ नजर आई। बड़ा बाजार, बैदों का चौक में पूजा सामग्री से जुड़ी दुकानों पर भीड़ रही।

यहां हुई जमकर खरीदारी

बीकानेर में बाइक व कार के शो रूम पर काफी भीड़ रही। रानी बाजार, जैसलमेर रोड और म्यूजियम चौराहे पर बाइक्स के शो रूम पर काफी भीड़ रही। इस बार पिछले दो सालों की तुलना में ज्यादा बाइक्स बेची गई। बाइक्स के साथ स्कूटी खरीदने वालों की काफी भीड़ रही। खास बात ये है कि इलेक्ट्रानिक बाइक्स की खरीद अब कई गुना बढ़ गई है। बीकानेर में इलेक्ट्रानिक्स मोटर साइकिल भी अब आ चुकी है। इनकी एडवांस बुकिंग हो रही है। कार के शो रूम पर भी रोमांचित करने वाली भीड़ रही। गंगानगर मार्ग, जयपुर मार्ग और जैसलमेर मार्ग पर कारों के शो रूम के आगे लोग अपनी नई कार के साथ सेल्फी लेते नजर आए।

रियल स्टेट में आया बूम

अर्से बाद इस दीपावली पर रियल स्टेट में भी बूम नजर आया। बीकानेर में एक दर्जन से ज्यादा फ्लेट्स के प्रोजेक्ट में खरीदारी हुई है। वहीं प्लाट और बने बनाए मकान खरीदने वालों की अच्छी खासी संख्या रही। कई तरह के उपहार और छूट भी इस खरीद के लिए प्रोत्साहित कर रही थी।

खबरें और भी हैं...