पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

व्यवस्थाएं बदली:काेविड आईसीयू के गंभीर राेगियाें काे एनस्थीसिया के डाॅक्टर संभालेंगे

बीकानेर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रेजीडेंट्स की डिमांड पर प्राचार्य ने व्यवस्थाएं बदली

रेजीडेंट डाक्टर्स की लंबे समय से उठाई जा रही मांगे और शनिवार काे हड़ताल पर जाने की घाेषणा के बाद मेडिकल काॅलेज के कार्यवाहक प्राचार्य डा.एल.ए.गाैरी ने कई व्यवस्थाओं में बदलाव के आदेश दिए। इनमें काेविड हाॅस्पिटल आईसीयू का पूरा जिम्मा एनस्थीसिया विभाग, तीसरे फ्लाेर का पूरा जिम्मा मेडिसिन विभाग और दूजे फ्लाेर सहित एमसीएच विंग पर भर्ती राेगियाें के देखरेख का जिम्मा मेडिसिन के साथ टीबी-चेस्ट और एनस्थीसिया सहित अन्य विभागाें के डाक्टर मिलकर उठाएंगे। इसके साथ ही मेडिसिन वार्ड में भर्ती राेगियाें के काेविड नमूने उन्हीं वार्डाें में लेने, काेविड सस्पेक्ट राेगियाें वाले सारी वार्ड में राउंड द क्लाॅक ईसीजी टैक्नीशियन नियुक्त करने, मेडिसिन वार्डाें में 15 ऑक्सीजन सिलेंडर हर दिन उपलब्ध करवाने आदि निर्देश पीबीएम हाॅस्पिटल सुपरिंटेंडेंट काे दी गई है।

प्राचार्य के इस आदेश से विभिन्न विभागाें के सीनियर डाक्टर, विभागाध्यक्ष पूरी तरह सहमत नहीं लग रहे। रेजीडेंट डाक्टर्स का भी मानना है कि यह आदेश प्रभावी हाेने आसान नहीं है। ऐसे में रविवार काे विभिन्न विभागाध्यक्षाें-प्रमुख चिकित्सकाें की आपात मीटिंग बुलाई जा सकती है।

आपातकाल के इस दाैर में हड़ताल करना ताे दूर बगैर ड्यूटी दाैड़कर काम करने का वक्त है लेकिन हर दिन रेजीडेंट डाक्टर पिट रहे हैं। वे उन गलतियाें का खमियाजा भुगत रहे हैं जाे उनसे जुड़ी हुई नहीं है। मसलन, ऑक्सीजन खत्म हाेना। अटेंडेंट नहीं मिलता। सफाई नहीं हाेना। नर्सिंग केयर नहीं हाेना आदि। बड़ी तादाद में डाक्टर खुद पाॅजिटिव हुए हैं। नेगेटिव हाेकर काम पर लाैट आए हैं। उनके क्वारेंटाइन हाेने, रहने, खाने तक के सुरक्षित बंदाेबस्त नहीं है। दिल पर पत्थर रखकर काम बहिष्कार करना पड़ा है। इसके बावजूद आपातकालीन सेवाओं काे हमने नहीं छाेड़ा है। वहां रेजीडेंट माैजूद हैं।
डा.महिपाल नेहरा, अध्यक्ष आरडीए बीकानेर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें