सर्वे:ड्राईपाेर्ट खाेलने के लिए सेंट्रल वेयर हाउस की टीम ने किया सर्वे

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बीकानेर में ड्राईपाेर्ट खाेलने काे लेकर सेंट्रल वेयर हाउस की टीम बुधवार काे बीकानेर पहुंची। सेंट्रल वेयर हाउस की टीम के सेंट्रल वेयरहाउसिंग के वरिष्ठ सहायक प्रबंध लोकेंद्र सिंह, प्रबंधक मुकेश यादव, केंद्रीय भंडार ग्रह प्रबंधक प्रथम पूनम कुमारी, प्रबंधक द्वितीय हिमांशु मंजू, वाणिज्य निरीक्षक नार्थ वेस्ट रेलवे राजेंद्र पांडे एवं सीएल मीणा ने बीकानेर जिला उद्योग संघ में पदाधिकारियाें आयात-निर्यात के उत्पादाें के बारे में जानकारी ली।

संघ के अध्यक्ष द्वारकाप्रसाद पचीसिया ने बताया कि वर्तमान में बीकानेर में अभी 24 हजार कंटेनर का आयात-निर्यात होता है। बीकानेर अब सोलर हब बनने जा रहा है, इसलिए सोलर प्लेट्स भी काफी मात्रा में आयात हाेने लगी है। अभी यह उत्पादक सीधे मालिकाें तक नहीं पहुंच पाता। ड्राईपाेर्ट बनने के बाद कम किराए में व्यापारी काे सीधा माल उपलब्ध हाेगा। समय की भी बचत हाेगी। बीकानेर जिला एशिया की वूलन मंडी के नाम से भी विख्यात है।

पापड़, भुजिया, रसगुल्ला के उत्पादन की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बीकानेर की एक अनोखी पहचान है| ड्राईपोर्ट बनने से आयात होने वाला माल भी औद्याेगिक इकाइयाें के दरवाजे तक आसानी से पहुंच जाएगा। संभाग के श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, सरदारशहर, चूरू इत्यादि के भी आयातक/निर्यातक भी इसका लाभ उठा सकेंगे।

खबरें और भी हैं...