पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना का कहर:शहर के हर हिस्से में कोरोना

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना के नाम से ही जब डर और तनाव घेरने लगता है। उस दौर में बीकानेर के ये पॉजिटिव रोगी कोविड केयर सेंटर में गाते-बजाते, भजन गाते, हथाई करते कोविड को मात देते दिखाई दे रहे है।
  • 24 घंटे में, एक माैत, 32 पाॅजिटिव, अब तक, 447 पाॅजिटिव, 18 माैतें
  • लगातार जानें जा रही, शहर में डर लाेग बाेल-लाॅकडाउन कर दाे
  • ये बीकानेरियत है... कोविड सेंटर में गूंज रहे ‘भैरवनाथ रा घुघरियां’

काेराेना के राेगी बढ़ने के साथ ही यह लगातार जानलेवा हाेता जा रहा है। इस बीमारी की चपेट में आए एक और व्यक्ति ने शनिवार काे दम ताेड़ दिया। इसके साथ ही कुल 32 नए पाॅजिटिव रिपाेर्ट हुए हैं। इन नए राेगियाें के बींकानेर में अब तक पाॅजिटिव का आंकड़ा 447 हाे गया है जिनमें से 18 लाेगाें की माैत हाे चुकी है। हाॅस्पिटल में भर्ती पाॅजिटिव राेगियाें में से दाे की हालत गंभीर बताई जा रही है।

नए राेगी शहर के अलग-अलग हिस्साें से रिपाेर्ट हुए हैं। इनमें साले की हाेली, जस्सूसरगेट, दाऊजी मंदिर, रामपुराबस्ती, आंबेडकर काॅलाेनी, पटेल नगर, शिवबाड़ी, सुजानदेसर, इंद्रा काॅलाेनी, लूणकरणसर, मुरलीधरव्यास काॅलाेनी आदि इलाकाें के राेगी शामिल हैं। कुल, मिलाकर शहर में अब काेराेना-फ्री हिस्सा काेई नहीं बचा है। ऐसे में शहर के हर हिस्से से लाेग एक बार फिर लाॅकडाउन या कर्फ्यू लगाने की मांग उठाने लगे हैं। बड़ा बाजार के कुछ व्यापारियों ने थानाधिकारी को ज्ञापन देकर सेल्फ लॉकडाउन लगाने की मंशा जताई है।

नए कलेक्टर के सामने चुनाैती-काेराेना विस्फाेट बाेले-टीमवर्क, सबके सहयाेग से सुधारेंगे हालात

आईएएस नमित मेहता ने कलेक्टर पद पर कार्यभार ग्रहण किया। पत्रकाराें से बातचीत में कहा, प्राथमिकता काेराेना पर नियंत्रण करना है। इसके साथ ही आर्थिक, सामाजिक, कानून-व्यवस्था से जुड़े सभी मसलाें पर आगे भी बढ़ना है। काेविड-19 से जुड़े हालात पर कहा, हालांकि यहां पाॅजिटिव मरीज बढ़े हैं, लेकिन हालात हर जगह ऐसे ही हैं।

अब सैंपल्स की तादाद बढ़ाकर ज्यादा से ज्यादा राेगियाें काे सामने लाने का काम हाेगा। माैताें की तादाद ज्यादा हाेना चिंता का विषय है। अब काेविड हाॅस्पिटल में गंभीर राेगियाें काे ही रखकर उपचार करने का इंतजाम हाेगा। एसिम्टाेमैटिक पेशेंट के लिए काेविड केयर सेंटर में सुविधाएं बढ़ाएंगे।

20 तक दो दिन खुलेगी तो दो दिन बंद रहेगी फल-सब्जी मंडी

पूगल रोड फल-सब्जी मंडी के दो व्यापारी और एक खरीदार कोरोना पॉजिटिव आने के बाद व्यापारी दहशत में हैं। एसोसिएशन अध्यक्ष अरविंद मिढ्‌ढा ने बताया कि मंडी व्यापारियों ने मीटिंग कर 20 जुलाई तक मंडी दो दिन खोलने और दो दिन बंद रखने का फैसला किया है।

दरअसल फल सब्जी मंडी को पूरी तरह बंद करने के लिए सभी व्यापारियों में सहमति नहीं बनी है। व्यापारियों ने शुक्रवार को एडीएम सिटी को ज्ञापन देकर एक सप्ताह के लिए मंडी में लॉकडाउन घोषित करने की मांग की थी। इसे लेकर शनिवार को बीकानेर फ्रूट वेजिटेबल मर्चेंट एंड कमोडिटी एजेंट एसोसिएशन की बैठक हुई। दोनों पक्षों की रायशुमारी के बाद फैसला लिया। 

डाॅक्टर से ज्यादा अटेंडेंट की कमी: हाॅस्पिटल में अटेंडेंट नहीं, ठेका कर्मी जाेखिम से कतरा रहे

काेविड केयर सेंटर बनाने और इन्हें सुचारू रखने में ज्यादा दिक्कतें अटेंडेंट से जुड़ी है। फिलहाल जाे सेंटर चल रहे हैं वहां सफाई, पानी, बिजली, चद्दर, पंखे, कूलर, भाेजन आदि से जुड़ी दिक्कतें ही सामने आ रही है। बार-बार वायरल हाे रहे वीडियाे में भी यह सब दिखाया जा रहा है। प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के पास अपने अटेंडेंट नहीं है। वजह, लंबे समय से भर्ती नहीं हुई।

पुराने 50 की उम्र के पार के जिनमें से ज्यादातर बीपी, अस्थमा, सुगर या किसी न किसी बीमारी की चपेट में आए हैं। ऐसे में इनकी ड्यूटी नहीं लगाई जा सकती। सरकार की अपील पर कई स्वयंसेवी संगठन, युवा बताैर स्वयंसेवक सेवा देने आगे भी आए। रजिस्ट्रेशन करवाया लेकिन हाॅस्पिटल में काम करने काे तैयार नहीं। ठेके पर काम करने वाले अटेंडेंट खतरे का काम करने से कतरा रहे हैं।

जाे ठीक हैं, दूसराें का ख्याल रखें

काेविड हाॅस्पिटल से लेकर केयर सेंटर तक की जाे तस्वीरें सामने आ रही हैं उसके मुताबिक यहां भर्ती कई पाॅजिटिव लाेग स्वस्थ हैं। ऐसे में वे मिलकर अपने-अपने वार्ड में सफाई, एक-दूसरे का ख्याल रखने जैसी सेवाएं भी दे सकते हैं।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें