पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ई-नीलामी:मृत पशु ठेका: 1 सैकंड में 1 हजार की बोली बढ़ा फर्म ने पलटी बाजी, पिछले ठेके से 51 लाख ज्यादा कमाई

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दूसरे फर्म का आरोप-महापौर पक्ष ने साजिश रची,कोर्ट-एसीबी में जाऊंगा

मृत पशुओं को उठाने के ठेके के रोचक मुकाबले में मंगलवार को तीन मिनट में बाजी पलट गई। मात्र एक सैकंड के अंतराल पर एक फर्म ने हजार रुपए ज्यादा लगाए और निगम की झोली में 51 लाख रुपए ज्यादा आ गए। यह बोली 81 लाख 7 हजार में छूटी। जबकि पिछला ठेका 30 लाख में था। शहर में मृत पशुओं को उठाने की नीलामी के लिए हर साल नगर निगम में बोली लगती है। सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले को ठेका दिया जाता है।

पहली बार ई-नीलामी रखी गई थी। पिछले साल 30 लाख में ठेका लेने वाली बीके नागौरा एंड कंपनी ने इस बार भी ठेका हासिल कर लिया था। लेकिन निगम ने ज्यादा राजस्व की उम्मीद रखते उसे निरस्त कर दुबारा टेंडर किए। पांच फर्मों ने आवेदन किए। मंगलवार को सुबह नीलामी शुरू हुई। अंत में बोली 81 लाख 7 हजार पर तोलाराम के नाम छूटी। निगम को इस नीलामी से 51 लाख 7 हजार का अधिक राजस्व मिलेगा। निगम के रिकॉर्ड के अनुसार, बीके नागौरा फर्म मात्र एक हजार रुपए से दूसरे नंबर पर रही। इस नीलामी को स्थगित करने के लिए खूब राजनीति हुई।

निगम में बरसा राजस्व...यूडी टैक्स के पौने चार करोड़, डेयरी बूथ के सात दिन में 13 लाख, होर्डिंग ठेका दुगुना 35 लाख में हुआ

डेयरी बूथ काफी समय से किराया नहीं दे रहे थे। नगर निगम ने अभियान चलाया। सात दिन में 13 लाख का राजस्व आया। महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने बताया कि पोल पर होर्डिंग लगाने का ठेका तीन साल से नहीं हो रहा था। इस बार ठेका 35 लाख में गया। पिछला ठेका 18 लाख का ही था। इसी प्रकार यूडी टैक्स में भी निगम को पौने चार करोड़ का राजस्व मिला है।

ऐसे चला सैकंडों का खेल: बोली शाम 4 बजकर 56 मिनट 4 सैकंड पर 70 लाख से शुरू हुई। 5 बजने से 2 सैकंड पहले नागौरा ने 81.06 लाख की बोली लगाई। एक सैकंड बाद ही तोलाराम ने 81.07 की बोली लगा दी। निगम के टाइम चार्ट के अनुसार 4 बजकर 59 मिनट 59 सैकंड पर अंतिम बोली लगी।

यह सही है कि बोली रोकने के लिए ऊपर से काफी प्रेशर था। निगम हित में फैसला किया गया है। निगम को 51 लाख की आय हुई है। इसके अलावा भी अन्य ठेकों से अच्छा राजस्व मिलेगा।

मृत पशु ठेके की नीलामी प्रक्रिया पूरी हो गई है। इस बार अच्छा रेवेन्यू निगम को मिलेगा। सामने वाली फर्म को शिकायत है। नया ठेका कमेटी फाइनल करेगी। फाइल आने पर ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।
मेघराज सिंह मीणा, कार्यवाहक आयुक्त, निगम
सुशीला कंवर राजपुरोहित, महापौर

मृत पशु ठेके की नीलामी प्रक्रिया पूरी हो गई है। इस बार अच्छा रेवेन्यू निगम को मिलेगा। सामने वाली फर्म को शिकायत है। नया ठेका कमेटी फाइनल करेगी। फाइल आने पर ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।
मेघराज सिंह मीणा, कार्यवाहक आयुक्त, निगम

मृत पशु ठेके को लेकर चल रही खींचतान

नगर निगम में मृत पशु ठेके को लेकर काफी दिनों से खींचतान चल रही थी। बीके नागौरा एंड कम्पनी पिछले कई सालों से सक्रिय थी। इसी फर्म ने इस बार भी बिड डाली और 43 लाख 24 हजार की अंतिम बोली भी इसी कम्पनी के नाम छूटी। लेकिन, निगम ने वर्कऑर्डर जारी नहीं किया। टेंडर निरस्त कर नए टेंडर जारी कर दिए।

कंपनी के प्रतिनिधि बाबू खान का कहना है कि टेंडर पर स्टे के लिए कोर्ट में आज तारीख थी। बुधवार की तारीख मिली है। आरोप है निगम से 4 बजकर 59 मिनट 58 सैकंड पर मैसेज आ गया था। महापौर पक्ष के लोगों ने साजिश रची। उनके विरुद्ध कोर्ट और एसीबी में शिकायत की जाएगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज किसी समाज सेवी संस्था अथवा किसी प्रिय मित्र की सहायता में समय व्यतीत होगा। धार्मिक तथा आध्यात्मिक कामों में भी आपकी रुचि रहेगी। युवा वर्ग अपनी मेहनत के अनुरूप शुभ परिणाम हासिल करेंगे। तथा ...

और पढ़ें