सकरी गलियां, ज्यादा दुकानें / काेटगेट के कटले-मार्केट खाेलने पर दिन में सहमति रात काे निर्णय टाला

Decision to agree on day-to-night decision on eating cat-market of Catgate
X
Decision to agree on day-to-night decision on eating cat-market of Catgate

  • लाभूजी कटला, सुखलेचा कटला, ताैलियासर भैरूंजी गली मार्केट आदि में सकरी गलियाें में बड़ी तादाद में दुकानें, लाेगाें की आवाजाही हाेने से भीड़ बढ़ने की आशंका
  • प्रशासनिक अधिकारियाें के साथ दिन में व्यापारियाें की हुई मीटिंग, बाजार में कुछ दुकानें खुल भी गई, रात काे हालात पर बात के बाद एकबारगी कटले, मार्केट बंद रखने का ही निर्णय लिया

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 06:40 AM IST

बीकानेर. काेटगेट के आस-पास कपड़ाें के सबसे बड़े बाजार लाभूजी कटला, सुखलेचा कटला और ताैलियासर भैरूंजी मार्केट काे खाेलने पर शनिवार दाेपहर काे एकबारगी सहमति देने के बाद देर रात काे निर्णय टाल दिया गया। प्रशासन अब दाे दिन में इस इलाके की जरूरताें, संभावित भीड़, आने-जाने के रास्ते, दूरी और सुरक्षा के पूरे इंतजामाें पर चर्चा के बाद बाजार खाेलने का निर्णय लेगा। 

लाॅकडाउन 4.0 के बाद लगभग पूरे बाजार खुल गए लेकिन  के आस-पास कपड़े के सबसे बड़े बाजार के रूप में पहचान रखने वाले कटले, रेडिमेड-गारमेंट का सबसे बड़ा मार्केट ताैलियासर भैरूंजी गली आदि अभी बंद हैं। व्यापारियाें के प्रतिनिधि मंडल ने जिला एवं पुलिस प्रशासन के सामने इन्हें चालू करवाने की बात रखी।

उद्याेग मंडल के जुगलराठी, उद्याेग संघ के डी.पी.पच्चीसिया, अनंतवीर जैन आदि जिला कलेक्टर कुमारपाल गाैतम से मिले। उनके कहने पर एडीएम सिटी सुनीता चाैधरी, काेटगेट थाना अधिकारी धरम पूनिया आदि से इस मसले पर बातचीत की।

प्रशासनिक अधिकारियाें ने एकबारगी प्रायाेगिक ताैर पर पूरी सुरक्षा-एहतियात के साथ दुकानें खाेलने पर सहमति दी लेकिन देर शाम इसी बाजार से सटते काेतवाली थाना इलाके में पांच नए राेगी रिपाेर्ट हाेने, कर्फ्यू के हालात बनने के साथ ही इन सकरे बाजाराें में सुरक्षा-एहतियात के पूरे इंतजाम नहीं हाेने काे देखते हुए यह निर्णय टाल दिया। दाे दिन में यहां पूरे इंतजाम करने के बाद बाजार खाेलने का निर्णय हाेगा।
व्यापारियाें काे चिंता, बंद दुकानाें में चूहे पहुंचा रहे नुकसान 
व्यापार उद्याेग मंडल के अध्यक्ष जुगल राठी, जिला उद्याेग संघ के अध्यक्ष डी.पी.पच्चीसिया, व्यापार मंडल के संरक्षक अनंतवीर जैन आदि का कहना है, महीनाें से बंद कपड़े की दुकानाें में चूहाें, सहित दूसरे जीव-जंतु नुकसान पहुंचा रहे हैं। व्यापारियाें काे इसकी चिंता भी है। अब प्रशासन पुख्ता बंदाेबस्त करने के बाद जब कहेगा, तभी दुकानें खाेलेंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना