बाइक से जा रहे युवक का गला तार से कटा:आवाज वाली नस तक कट गई, फिसलने से हुआ हादसा

बीकानेर5 महीने पहले

खेत के बाहर लगी तारबंदी से एक युवक का गला कट गया, जिसे गंभीर हालत में पहले बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में भर्ती करवाया गया। फिर जयपुर रैफर कर दिया गया है। दरअसल, बाइक फिसलने से युवक तारबंदी पर जा गिरा था। इससे गले का अधिकांश हिस्सा तारबंदी की नोक से कट गया। डॉक्टर्स का कहना है कि युवक की आवाज वापस नहीं आने का खतरा बना हुआ है।

घटना बीकानेर के खाजूवाला की है। बुधवार देर रात चक 10 बीडी के पास 25 वर्षीय युवक राकेश कुम्हार बाइक पर जा रहा था। अचानक बाइक अनियंत्रित हो गई। ऐसे में उसे खाजूवाला सीएचसी में चिकित्सक डॉ. पूनाराम रोझ के पास ले गए। जहां प्राथमिक उपचार के बाद ट्रॉमा सेंटर रैफर कर दिया। चिकित्सकों के अनुसार तारबंदी में लगे नोक से गला अंदर तक कट गया है। गंभीर स्थिति होने के कारण उसे तुरंत बीकानेर के पीबीएम अस्पताल रैफर किया गया। देर रात उसे बीकानेर से जयपुर रैफर कर दिया गया। सूचना के बाद खाजूवाला पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंची।

युवक रात को अपने घर से किसी काम के लिए निकला था, लेकिन रास्ते में गड्‌ढे और पानी होने के कारण उसकी बाइक फिसल गई थी। बाइक का अगला पहिया घिसटता हुआ खेत के अंदर तक गया। जहां तारबंदी में कांटे के तार लगे थे। वो खुद को बचा नहीं पाया और गले का हिस्सा इससे जा टकराया। गाड़ी स्पीड में होने के कारण गला ज्यादा कटा।

आवाज जाने का खतरा

रात को खाजूवाला अस्पताल की सक्रियता से राकेश की जान तो बच गई, लेकिन उसके गले में ज्यादा नुकसान होने से आवाज वापस नहीं आने का खतरा बना हुआ है। खाजूवाला अस्पताल के डॉ. पूनम रोझ ने बताया कि गला इतना जबर्दस्त कट गया है कि आवाज वाली नर्व पूरी तरह कट चुकी है। वो रात काे भी बोल नहीं पा रहा था और आगे भी बोलना मुश्किल है। हालांकि केरोटिड नर्व बच गई, जिससे उसकी जान बची हुई है।

कंटेंट सपोर्ट: इस्माइल खान, खाजूवाला