पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Earthquake Tremors For The Second Consecutive Day, No Sign Of Any Major Disaster, 4.8 Magnitude On The Richter Scale On Thursday Morning, No Accident

बीकानेर में आज फिर भूकंप:लगातार दूसरे दिन भूकंप के झटके, गुरुवार सुबह रिक्टर स्केल पर 4.8 तीव्रता, कोई नुकसान नहीं, पाकिस्तान की ओर 453 किलोमीटर था केंद्र

बीकानेर6 दिन पहले
बीकानेर शहर।

बीकानेर में बुधवार के बाद गुरुवार को फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए, जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.8 मापी गई है। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी ने सोशल मीडिया पर इस आशय की जानकारी दी है। भूकंप का मुख्य केंद्र बुधवार की तरह अफगानिस्तान व पाकिस्तान में ही माना जा रहा है। बीकानेर में तो गुरुवार को भी आम लोगों को भूकंप महसूस नहीं हुआ।

बुधवार का आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 5.3 थी जबकि गुरुवार को ये घटकर 4.8 रह गई। इसके बाद भी अब चिंता ये सताने लगी है कि बार-बार भूकंप के झटके कहीं किसी बड़ी अनहोनी की चेतावनी तो नहीं है। आमतौर जहां बड़े भूकंप के झटके आते हैं, वहां पहले कुछ दिन सामान्य झटके महसूस होने की घटनाएं होती रही हैं। गुरुवार को बीकानेर से पाकिस्तान की ओर 453 किलोमीटर पर मुख्य केंद्र था जबकि भूकंप करीब पंद्रह किलोमीटर गहराई पर था। बीकानेर के अलावा पाकिस्तान सीमा से सटे जैसलमेर में भूकंप का सामान्य असर रहा है।

महसूस नहीं हुआ
दूसरे दिन भी बीकानेर वासियों को भूकंप के झटके महसूस नहीं हुए। बुधवार को सुबह पांच बजे भूकंप आने से लोग नींद में थे, लेकिन गुरुवार को तो 7.42 बजे भूकंप आया। ऐसे में लोग जाग रहे थे, लेकिन भूकंप का झटका महसूस नहीं हुआ। दोनों दिन भूकंप के बाद भी कहीं किसी तरह के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी से ही पता चल रहा है कि भूकंप आया है।

मौसम विभाग का कहना है
मौसम विभाग के निदेशक राधेश्याम शर्मा का कहना है कि बार बार आ रहे भूकंप के झटके किसी बड़े नुकसान की चेतावनी हो सकती है, लेकिन इस बारे में कोई स्पष्ट प्रमाण नहीं है कि ऐसा होगा। बीकानेर में आ रहे भूकंप के झटकों का एपिक सेंटर 453 किलोमीटर दूर है, इसलिए नुकसान नहीं होगा। एपिक सेंटर के आसपास ही भूकंप का असर नजर आता है।