पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Exam Will Be Held At 97 Centers Of The District, Police Alerted For Tight Security At Every Center, Monitoring Of Board In Every District

REET में बीकानेर से 29 हजार स्टूडेंट्स:जिले के 97 सेंटर्स पर होगा एग्जाम, हर सेंटर पर कड़ी सुरक्षा के लिए पुलिस को किया अलर्ट, बोर्ड की हर जिले पर निगरानी

बीकानेर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

26 सितम्बर को प्रदेशभर में हो रही राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (REET-2021) परीक्षा में अकेले बीकानेर से 29 हजार अभ्यर्थी हिस्सा ले रहे हैं। इतनी बड़ी संख्या में परीक्षा के लिए जिले में 97 परीक्षा केंद्र बनाये गए हैं। परीक्षा के लिए सभी केंद्रों पर निगरानी रखी जा रही है। परीक्षा केंद्रों के आसपास के पुलिस थानों को भी अलर्ट किया गया है।

जिला समन्वयक डॉ. बिट्‌ठल बिस्सा ने बताया कि जिले में परीक्षा के सफल आयोजन हेतु 97 परीक्षा केन्द्र निर्धारित किये गए हैं, जिनमें 29 हजार से अधिक विद्यार्थी परीक्षा में सम्मिलित होंगे। राज्य सरकार द्वारा रीट परीक्षा के आयोजन के लिए प्रत्येक जिले में जिला कलक्टर की अध्यक्षता में परीक्षा संचालन समिति का गठन किया गया है।

इस समिति में पुलिस अधीक्षक-सह अध्यक्ष, जिला कलक्टर द्वारा नामित प्रतिनिधि, बोर्ड प्रतिनिधि, जिला समन्वयक, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक), जिला शिक्षा अधिकारी (प्रारम्भिक), मुख्य प्रबन्धक राजस्थान रोडवेज, जिला परिवहन अधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को सदस्य बनाया गया है। समिति में जिला शिक्षा अधिकारी पदेन सचिव के रूप में कार्य करेंगे।इस संबंध में बैठक में बीकानेर से जिला समन्वयक डॉ. बिट्ठल बिस्सा, जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक) सुरेन्द्र सिंह भाटी एवं अतिरिक्त शिक्षा अधिकारी भूपसिंह तिवाड़ी ने भाग लिया।

ये होगा एग्जाम शेड्यूल

राज्य सरकार द्वारा राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (REET-2021) का आयोजन 26 सितम्बर को करवाया जाएगा। द्वितीय लेवल की परीक्षा प्रातः 10 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक तथा प्रथम लेवल की परीक्षा दोपहर 2.30 बजे से शाम 5 बजे तक आयोजित होगी।

बोर्ड ने भी दिए दिशा निर्देश

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा अजमेर में बोर्ड अध्यक्ष प्रो. डी.पी. जारोली की अध्यक्षता में परीक्षा आयोजन से संबंधित उच्च स्तरीय बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में प्रदेश के समस्त जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक), अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी (मुख्यालय) एवं बोर्ड द्वारा नियुक्त जिला समन्वयकों ने भाग लिया। बैठक में प्रो. डी.पी. जोरोली ने परीक्षा आयोजन को लेकर विस्तृत दिशा-निर्देश दिये।

राजस्थान के इतिहास में पहली बार 25 लाख से अधिक विद्यार्थी एक साथ एक ही दिन में किसी प्रतियोगी परीक्षा में सम्मिलित होंगे। ऐसी परिस्थितियों में परीक्षा आयोजन को लेकर जिला प्रशासन, शिक्षा विभाग एवं बोर्ड द्वारा नियुक्त प्रतिनिधियों की महती जिम्मेदारी बन गई है।

खबरें और भी हैं...