पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान आंदोलन:किसानों ने 3 घंटे हाईवे जाम रखा, बीकानेर जिले में करीब 10 जगह किसानों ने किया प्रदर्शन

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
किसान आंदोलन के कारण जयपुर रोड पर सैरूणा गांव के पास लगी वाहनों की कतार। - Dainik Bhaskar
किसान आंदोलन के कारण जयपुर रोड पर सैरूणा गांव के पास लगी वाहनों की कतार।
  • विधायकों गोविंद मेघवाल और गिरधारी महिया ने संभाला मोर्चा
  • रोडवेज बसें नहीं चली, आम जनता को हुई काफी परेशानी

कृषि कानूनों के विरोध में जिलेभर के किसानों ने शनिवार को तीन घंटे तक हाईवे जाम किए। किसान सड़क के बीच में बैठ गए और वाहनों को रोक दिया। ऐसे में सड़क के दोनों ओर एक से डेढ़ किलोमीटर तक वाहनों की लंबी कतारें लग गई। करीब तीन घंटे तक जाम रहे हाईवे के कारण बसाें में बैठे लोगों ने मजबूरीवश पैदल की गतंव्य की ओर रवानगी ले ली।

रोडवेज ने तो अपनी बसों को रास्ते से ही बुला लिया। जाम के कारण वाहन चालक सड़क के किनारे बैठने पर मजबूर हुए। किसानों ने टोल नाकों पर भी जाम लगाया। हालात यह थे कि ट्रैफिक सुचारू होने में एक घंटे का समय लगा। जिले में खाजूवाला, लूणकरणसर, श्रीडूंगरगढ़, सैरूणा, गजनेर, नोखा, पलाना, महाजन और अर्जुनसर में किसानों ने चक्काजाम की तैयारियां सुबह 10 बजे से ही शुरू कर दी। उन्होंने कहीं हाईवेे पर पत्थर लगाकर रास्ता रोका तो कहीं टायर जलाए। कहीं पेड़ों की टहनियां डालकर रास्ता रोका।

खाजूवाला में विधायक गोविंदराम मेघवाल ने और सैरूणा में विधायक गिरधारी महिया ने किसानों का प्रतिनिधित्व किया। दोनों विधायकों ने केंद्र सरकार के कृषि कानूनों को किसानों के साथ धोखा बताते हुए उन्हें वापस लेने की बात कही। उन्होंने कहा, केंद्र सरकार जब तक इन कृषि कानूनाें को वापस नहीं लेगी हमारा आंदोलन जारी रहेगा।
बीकानेर डिपाे को हुआ 4 लाख रुपए का नुकसान

कृषि बिलाें के विराेध में देशभर में शनिवार काे दाेपहर में तीन घंटे हुए चक्काजाम से बीकानेर डिपाे की बस सेवाएं भी प्रभावित हुई। दाेपहर 12 से अपरान्ह तीन बजे के बीच चलने वाली लंबी दूरी की 12 बसाें काे कैंसिल करना पड़ा। आठ बसें तय समय से करीब आधे घंटे से लेकर दाे घंटे देरी से रवाना हुई। बसाें का संचालन नहीं हाेने से यात्रियाें काे परेशान हाेना पड़ा। डिपाे काे करीब चार लाख रुपए के राजस्व का नुकसान हुई। कई बसाें काे विराेध के चलते बीच रास्ते तक में राेकना पड़ा।

बीकानेर डिपाे की मुख्य प्रबंधक इंद्रा गाेदारा ने कहा कि अजमेर, जाेधपुर, बांसवाड़ा, हनुमानगढ़, अहमदाबाद, श्रीगंगानगर, अनूपगढ़ के लिए दिन में चलने वाली 12 बसाें काे कैंसिल किया गया। अनूपगढ़, श्रीगंगानगर, नागाैर डिपाे की आठ बसें देरी से रवाना हुई। ऐसे ही अनूपगढ़, अर्जुनसर, सूरतगढ़, नाेखा, गंगाशहर, पलाना में बसाें काे चक्काजाम के दाैरान राेकना पड़ा, जाे शाम काे तय समय से कई घंटे देरी से गंतव्य पर पहुंची।

गाैरतलब है कि डिपाे की 99 बसें राेजाना 95 शैड्यूल पर चलती है। 44 हजार किलाेमीटर बसाें के डेली चलने से डिपाे काे राेजाना करीब 11 से 12 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हाेता है। उधर प्राइवेट बसाें का हाल भी कुछ ऐसा ही रहा। दिनभर में प्राइवेट व राेडवेज बसाें में दाेपहर से पहले व शाम के बाद यात्री भार राेज की तुलना में बेहद कम रहा।

खाजूवाला में इमरजेंसी सेवा नहीं हुई बाधित, सैरूणा में हुई नारेबाजी

राजीव सर्किल चौराहा खाजूवाला पर 3 घंटे किसानों ने जाम लगाया। इस दौरान पुलिस की मौजूदगी में इमरजेंसी सेवाएं बाधित नहीं हुई। खाजूवाला थानाधिकारी रमेश कुमार सर्वटा पुलिस जाब्ते के साथ खुद नाके पर मौजूद रहे। उन्होंने किसानों के चक्काजाम के दौरान किसानों से समझाइश कर एमरजेंसी सेवाओं को बहाल रखा। खाजूवाला से बीकानेर रैफर दो एंबुलेंस को भी किसानों ने नहीं रोका। सैरूणा में विधायक गिरधारी महिया ने विरोध प्रदर्शन की अगुवाई की। वे समर्थकों के साथ सड़क पर ही बैठ गए। इस दौरान किसानों ने केन्द्र सरकार के विरोध में नारेबाजी भी की। महिया के साथ मोहन भादू, मुखराम भादू, गोपाल भादू, सुखराम महिया आदि लोग धरनास्थल पर मौजूद थे।।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें