• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Five Thousand Teachers From Block To State Level Applied For The Award, But Like Last Year, This Time Also Teachers Day Will Not Be Organized.

टीचर्स डे पर कोरोना इफेक्ट:ब्लॉक से स्टेट लेवल तक के पांच हजार टीचर्स ने किया अवॉर्ड के लिए आवेदन, लेकिन पिछले साल की तरह इस बार भी टीचर्स डे पर नहीं होगा आयोजन

बीकानेरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

ब्लॉक से स्टेट लेवल तक अच्छा काम कर रहे टीचर्स को अवॉर्ड देने के लिए शिक्षा विभाग ने आवेदन तो ले लिए लेकिन टीचर्स डे पर इन टीचर्स का अवॉर्ड देने का निर्णय फिलहाल टाल दिया है। दरअसल, कोरोना के कारण बड़ा कार्यक्रम संभव नहीं हो पाने के कारण इस आयोजन को गत वर्ष की तरह 5 सितम्बर को टीचर्स डे पर करने के बजाय अक्टूबर या नवम्बर में किया जाएगा। ऐसे में अवॉर्ड के लिए आवेदन करने वाले टीचर्स को अभी कुछ समय इंतजार करना पड़ेगा।

दरअसल, ब्लॉक स्तर पर टीचर्स को बेहतर कार्य पर सम्मानित करने के लिए शिक्षा मंत्री गोविन्द डोटासरा ने योजना बनाई थी। इस बार करीब पांच हजार टीचर्स ने पुरस्कार के लिए आवेदन दिया। हर ब्लॉक, जिला व स्टेट लेवल पर नकद पुरस्कार राशि भी रखी गई है। ऐसे में आवेदन की संख्या बढ़ गई। पिछले दो दिन से ये पांच हजार टीचर पुरस्कार के लिए चयनित टीचर्स की लिस्ट ढूंढ रहे हैं, जबकि हकीकत ये है कि विभाग ने अभी इस पर काम ही नहीं किया। ये पहले ही तय हो गया कि पांच सितम्बर को टीचर्स डे पर ये आयोजन नहीं होगा। ऐसे में आवेदनों पर किसी तरह का विचार नहीं किया गया।

सरकारी स्कूलों को बेहतर बनाने के लिए शिक्षा विभाग की ओर से किए जा रहे प्रयासों में एक टीचर्स अवॉर्ड भी है। इस बार ब्लॉक स्तर से राज्य स्तर तक टीचर्स को उनके कार्यों व परीक्षा परिणाम के लिए पुरस्कृत किया जाएगा। पिछले दिनों अवॉर्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू हुआ था, जिसकी लास्ट डेट सोमवार रात 12 बजे तक है। माध्यमिक शिक्षा निदेशालय को अब तक डेढ़ हजार से अधिक आवेदन मिल चुके हैं। ये संख्या आज तीन हजार के आसपास पहुंचने की उम्मीद है। टीचर्स को ऑनलाइन आवेदन ही करना है। शाला दर्पण पोर्टल पर 16 अगस्त को रात 12 बजे तक लिंक एक्टिव रहेगा।

किसको मिलेगा पुरस्कार
राज्य के प्रत्येक ब्लॉक से एक टीचर को ब्लॉक लेवल पर पुरस्कार मिलेगा। ब्लॉक स्तर पर विजेताओं में से ही एक को जिला स्तर पर और जिला स्तर पर चयनित टीचर्स में से एक को राज्य स्तर पर सम्मानित किया जाएगा। ब्लॉक स्तर पर टीचर को चयनित होने पर 5 हजार रुपए, जिला स्तर पर 11 हजार रुपए और राज्य स्तर पर सम्मानित होने पर 21 हजार रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा।

कौन तय करेगा?
ब्लॉक से राज्य स्तर पर एक-एक कमेटी का गठन किया गया है, जो पुरस्कार के लिए प्राप्त आवेदनों की समीक्षा करते हुए विजेता तय करेगी। इस पुरस्कार की खास बात ये है कि हर सरकारी टीचर को जीत का अवसर दिया गया है। कक्षा 1 से 5, 6 से 8 और 9 से 12 तक के टीचर्स को अलग-अलग श्रेणी में पुरस्कार मिलेगा। ऐसे में हर ब्लॉक, जिला व राज्य स्तर पर तीन-तीन पुरस्कार दिए जाएंगे।

कहां कितने पुरस्कार
हर ब्लॉक स्तर पर तीन पुरस्कार देने से राज्य के 301 ब्लॉक में 903 टीचर्स को पांच-पांच हजार रुपए के पुरस्कार मिलेंगे। इसी तरह 33 जिलों में तीन-तीन पुरस्कार से 99 पुरस्कार और राज्य स्तर पर भी 99 टीचर्स सम्मानित होंगे। हर जिले से तीन टीचर्स को राज्य स्तर का पुरस्कार दिया जाएगा। प्रदेशभर में 1101 पुरस्कार दिए जा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...