सुझाव:गरीब कल्याण योजना में प्रवासी लोगों को रोजगार में प्राथमिकता दे : मेहता

बीकानेरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा है कि मनरेगा योजना के अन्तर्गत ज्यादा से ज्यादा कार्य स्वीकृत कर, श्रमिक नियोजित किए जाए। कोविड-19 के दौरान जो प्रवासी जिले में लौटे हैं,उन्हें मनरेगा में काम मांगने पर रोजगार देने में प्राथमिता दी जाए।  मेहता मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित साप्ताहिक समीक्षा बैठक में विभागारवार कार्यों की जानकारी ले रहे थे। उन्होंने गरीब कल्याण योजना में प्रवासी लोगों को रोजगार देने की चर्चा करते हुए निर्देश दिए कि प्रारंभिक स्तर पर प्रवासियों का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है।

उसके बाद उनकी योग्यता के अनुसार प्रशिक्षण देकर, रोजगार दिया जायेगा। उन्होंने कहा प्रवासियों को रोजगार देने के लिए 25 विभागों को चिन्हित किया गया हैं। चिन्हित विभागों में वर्तमान में जो लक्ष्य दिए गए है, उन पर प्रवासियों को रोजगार देंगे।

जिला कलक्टर मेहता ने जिले में मानसून के दौरान मौसमी रोगों के बारे में फीडबैक लिया और निर्देश दिए कि जलजनित रोग ना हो, इसके लिए स्वास्थ्य विभाग और जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग समन्वय के साथ पानी के नमूने लेकर, पानी की शुद्धता की जांच करें।

बैठक में आईजीएनपी, महिता एवं बाल विकास विभाग, उद्योग विभाग, श्रम विभाग, शिक्षा विभाग, नगर विकास न्यास, नगर निगम आदि विभागों में विभिन्न योजनाओं में चल रहे कार्यो की समीक्षा की गई। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर ( प्रशासन) ए.एच.गौरी, उपखण्ड अधिकारी रिया केजरीवाल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद नरेन्द्र पाल सिंह, नगर विकास न्यास के सचिव मेघराज सिंह मीना, जिला रसद अधिकारी यशवंत भाकर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...