पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

यूआईटी ट्रस्ट की बैठक में फैसला:40 बीघा में बनेगा गोपालन नगर; यूआईटी ने कानासर, बीछवाल व उदयरामसर में देखी जमीन

बीकानेर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शहर में चल रही 500 से अधिक अवैध डेयरियों को मिली बड़ी राहत

शहर में अवैध डेयरियों और आवारा पशुओं की समस्या को देखते हुए गोपालन नगर बसाने का फैसला गुरुवार को यूआईटी ट्रस्ट की बैठक में किया गया है। गोपालन नगर के लिए यूआईटी स्तर पर पहली बार प्रयास शुरू किए गए हैं। शहर से 20 किलोमीटर क्षेत्र के दायरे में कानासर, बीछवाल और उदयरामसर में इसके लिए जमीन तलाशी जाएगी।

गोपालन नगर के लिए करीब 40 बीघा जमीन की प्लानिंग की गई है। यूआईटी इसके लिए कोटा के प्रोजेक्ट का अध्ययन करेगा। आवारा पशुओं की समस्या को देखते हुए नगर निगम ने पिछले महीने छोटी-बड़ी पांच सौ से अधिक अवैध डेयरियों को नोटिस जारी किए थे। इन्हें शहर से बाहर जाने के लिए 15 दिन का समय दिया था, लेकिन प्रशासन के पास ऐसा कोई स्थान चिन्हित नहीं हैं, जहां डेयरी संचालको को शिफ्ट किया जा सके। जबकि शहर में गोपालन नगर की मांग लंबे समय से की जा ही है।

गुरुवार को ट्रस्ट की मीटिंग में निगम आयुक्त ने इसका प्रस्ताव रखा, जिसे कलेक्टर नमित मेहता ने हरी झंडी देते हुए यूआईटी सचिव को योजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं। बैठक के दौरान वितीय वर्ष 2021-22 के लिए 160 करोड़ रुपए का बजट पारित किया गया तथा विभिन्न निर्माण कार्यों की 406.83 लाख रुपए की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृतियों का अनुमोदन किया गया। बैठक में नगर विकास न्यास सचिव नरेन्द्र सिंह पुरोहित, निगम आयुक्त ए एच गौरी सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

कोटा मॉडल की स्टडी करेंगे: कोटा में देवनारायण आवासीय योजना के तहत पशुपालकों के लिए 300 करोड़ की लागत से अलग से शहर बसाया जा रहा है। जहां आवास के साथ-साथ शेड, चारे के लिए गोदाम, हाट बाजार, अस्पताल, स्कूल , डेयरी उत्पाद बेचने के लिए मंडी और बायोगैस प्लांट भी तैयार किया जा रहा है। सामुदायिक भवन, शौचालय और पशुओं के लिए तालाब सहित तमाम सुविधाएं पशुपालकों के लिए उपलब्ध कराई जाएंगी। यूआईटी सचिव नरेंद्र सिंह राजपुरोहित ने बताया कि कोटा का प्रोजेक्ट मंगाया जा रहा है। उसी के अनुरूप प्लानिंग की जाएगी।

यूआईटी ट्रस्ट की बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले: खेल गांव बनेगा, 70 लाख से विकसित होंगे शहर के पार्क

  • खेलकूद की सुविधाओं के लिए किसमीदेसर या जोड़बीड़ में खेल गांव या मल्टी पर्पज स्टेडियम बनेगा।
  • नाइट टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए पब्लिक पार्क के पांचों दरवाजों का जीर्णोंद्धार होगा।
  • शहर में पार्कों के विकास पर 70 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे।
  • स्वर्ण जयंती विस्तार योजना में वाटर सप्लाई स्कीम बनाई जाएगी। इसमें स्वर्ण जयंती योजना पर 1.5 करोड़ तथा स्वर्ण जयंती विस्तार योजना पर 1.93 करोड़ रुपए खर्च होंगे। वहां 4 ट्यूबवैल, 1 जीएलआर तथा पंपिंग स्टेशन बनाया जाएगा।
  • रानीबाजार में रेलवे लाइन अम्बेडकर सर्किल से रानी बाजार रोड तक जाने वाली रेलवे लाइन पर आरयूबी बनाए जाने के लिए आरटीपीपी नियमों के अनुरूप तक बिड जारी की जाएगी।
  • विभिन्न सर्किलों को रोड सेफ्टी के मानकों के अनुसार सर्किलों की डिजाइन का पुनर्गठन वर्तमान यातायात व्यवस्था के मद्देनजर होगा।
  • वर्तमान में शहर का मास्टर प्लान वर्ष 2003-2023 तक के लिए बनाया गया है। आगामी समय के लिए नया मास्टर प्लान बनाने की कार्यवाही प्रारम्भ की जाएगी।
  • अधिवक्ताओं, चिकित्सकों, चार्टेड अकाउटेंट्स आदि प्रोफेशनल व्यक्तियों के लिए अलग से कॉलोनी विकसित की जाएगी।
  • शोभासर और बीछवाल में जलाशय के आसपास के क्षेत्र को पिकनिक स्पॉट के रूप में विकसित किया जाएगा। इसके तहत सड़क तथा चारदीवारी निर्माण एवं सौंदर्यकरण के कार्य होंगे।
  • जोड़बीड़ योजना में 4 ट्यूबवेल बनाए जाएंगे। इन पर लगभग 28 लाख रुपये खर्च होंगे। इसके अलावा सड़क, बिजली, पानी आदि आधारभूत सुविधाओं के विकास पर फेजवाइज लगभग 2 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।
  • बीकानेर में मिनी फूड पार्क की स्थापना के लिए भूमि का चयन किया जाएगा।
  • करणी नगर योजना में न्यास भण्डार का विस्तार किया जाएगा। करणी नगर योजना में नवनिर्मित अम्बेडकर भवन का संचालन लीज के माध्यम से किया जाएगा।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें