9वीं-10वीं की परीक्षा आज से:2 साल बाद हुई अर्द्धवार्षिक परीक्षा, पेपर पैटर्न भी बदला, पहले दिन इंग्लिश के पेपर में प्रश्न रिपीट

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राज्य के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में सोमवार से अर्द्धवार्षिक परीक्षा शुरू हो गए हैं। - Dainik Bhaskar
राज्य के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में सोमवार से अर्द्धवार्षिक परीक्षा शुरू हो गए हैं।

राज्य के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में सोमवार से अर्द्धवार्षिक परीक्षा शुरू हो गए हैं। एक साल के अंतराल से हो रहे इस एग्जाम के लिए स्कूल्स ने शनिवार को तैयारियां पूरी कर ली थी। जिला समान परीक्षा के तहत जिले की स्कूलों में पहले दिन 11वीं व 12वीं के एग्जाम शुरू हुए हैं, जबकि मंगलवार से 9वीं व 10वीं के एग्जाम शुरू होंगे। कोरोना के चलते पिछले साल हाफ ईयरली एग्जाम नहीं हुए थे।

इस पर एक साल के अंतराल से ये एग्जाम हो रहे हैं। वहीं वर्ष 2019 के सत्र में हाफ ईयरली एग्जाम हुए लेकिन फाइनल एग्जाम नहीं हुए थे। ऐसे में दोनों साल बच्चों को प्रमोट किया गया था। इस बार भी अगर कोरोना के कारण फिर से स्कूल बंद होते हैं तो ये हाफ ईयरली एग्जाम ही सबसे बड़ा आधार होंगे।

पहले दिन दोनों कक्षाओं के बच्चों का अंग्रेजी अनिवार्य का पेपर हुआ। 2.45 घंटे के पेपर में बच्चों से 31 प्रश्न पूछे गए। इनमें एक क्वेश्चन रिपीट भी हुआ। कोविड-19 के चलते इस बार अर्द्धवार्षिक परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया है। 48 नंबर के पेपर में इस बार बच्चों पैराग्राफ करने के लिए नहीं मिले। पेपर में सिर्फ क्वेश्चन-आंसर ही पूछे गए। शॉर्ट टर्म क्वेश्चन की संख्या अधिक रही।

खबरें और भी हैं...