• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • How Many Hoardings Have Been Installed In The City, The Corporation Has Not Only Conducted A Survey, If There Is A Complaint Of Illegality, Then It Has Also Been Legal.

पार्षद और ठेकेदार के बीच फंसा निगम:शहर में कितने होर्डिंग लगे हैं निगम ने सर्वे ही नहीं कराया अवैध की शिकायत हुई ताे वैध भी ताेड़ डाले

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विवाद बढ़ा ताे आयुक्त ने दिए सर्वे करने के निर्देश, अवैध होर्डिंग नहीं हटाने पर पार्षदों ने दी 14 दिसंबर से अनिश्चितकालीन धरने की चेतावनी। - Dainik Bhaskar
विवाद बढ़ा ताे आयुक्त ने दिए सर्वे करने के निर्देश, अवैध होर्डिंग नहीं हटाने पर पार्षदों ने दी 14 दिसंबर से अनिश्चितकालीन धरने की चेतावनी।

नगर निगम एरिया में अवैध हाेर्डिंग का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। निगम प्रशासन इसका समाधान करने के बजाय पार्षद और ठेकेदार के बीच उलझकर रह गया है। विवाद बढ़ते देख आयुक्त ने सर्वे करने के निर्देश दिए हैं। राजस्व अधिकारियों की भूमिका की भी जांच हाेगी। हाेर्डिंग ठेकेदार हैशटैग मीडिया ने आयुक्त काे ज्ञापन देकर उसके वैध होर्डिंग ताेड़ने पर हर्जाना मांगा है।

उधर कांग्रेसी पार्षदों ने भी 14 दिसंबर से अनिश्चितकालीन धरने की चेतावनी दे दी है। नगर निगम ने शहर में होर्डिंग लगाने का तीन साल का ठेका दिया था। ठेकेदार ने जब समय पर पैसा जमा नहीं कराया ताे कुछ कांग्रेसी पार्षदों ने दबाव बनाया और निगम ने होर्डिंग ताेड़ने शुरू कर दिए। पार्षद नाराज ना हाे इसलिए आनन-फानन में वैध हाेर्डिंग भी ताेड़ डाले। इस पर ठेकेदार भड़क गया।

निगम ने अवैध हाेर्डिंग के खिलाफ कार्रवाई बंद कर दी। आराेप है कि निगम के राजस्व अधिकारियाें ने हैशटैग मीडिया के पांच वैध होर्डिंग ताेड़ डाले। पांच दिसंबर काे मुक्ता प्रसाद काॅलाेनी में दाे, तीन दिसंबर चाैधरी भीमसेन सर्किल पर दाे और पंडित धर्मकांटे के पास लगा एक हाेर्डिंग ताेड़ डाला। ठेकेदार का कहना है कि सभी हाेर्डिंग निगम की स्वीकृत साइट के अनुसार ही लगाए थे।

इससे पहले जाेन पांच में दस हाेर्डिंग स्वीकृत नक्शे के अनुसार नहीं लग पाए थे। उसकी वजह से कंपनी काे लाखाें का नुकसान उठाना पड़ा। निगम ने बिना सर्वे प्लान यूआईटी एरिया में साइट दे दी। यूआईटी के अफसर नाराज हाे गए। सभी हाेर्डिंग ताेड़ डाले। आज तक उसका हर्जाना नहीं दिया गया। काफी हाेर्डिंग अवैध लगे हुए हैं, लेकिन उन्हें नहीं हटाया जा रहा है।

हालात ये है कि जाेन तीन में बिना नवीनीकरण 40 साइट दे रखी है। पाेल और कियाेस्क के ठेके भी अवधि समाप्त हाेने के बाद चल रहे हैं। हैशटैग मीडिया के दिनेश पटेल का कहना है कि डीएलबी ने दाे जुलाई काे आदेश जारी कर काेराेना काे देखते हुए ठेके की अवधि छह माह के लिए बढ़ाई थी, लेकिन निगम के अधिकारी डीएलबी निदेशक का आदेश ही नहीं मान रहे हैं।

कांग्रेसी नेता बाेले-निगम सर्वे कराए ताे खुल जाएगी पाेल
कांग्रेसी नेता सुभाष स्वामी का कहना है कि निगम प्रशासन होर्डिंग मामले से ध्यान भटकाना चाहता है क्योंकि इसमें निगम अधिकारियों की कमाई का पूरा खेल छुपा है। वरना शहर के हर चौराहे का नक्शा निगम के पास है। एक ही दिन में शहर के प्रत्येक चौराहे का सर्वे हो सकता है और ये पता लग सकता है कि शहर में कितने वैध और अवैध होर्डिंग हैं।

होर्डिंग मामले को डील करने वाली राजस्व निरीक्षक ने जानबूझकर वैध होर्डिंग तुड़वाया ताकि ठेकेदार निगम पर दबाव बने और इसकी आड़ में बाकी अवैध होर्डिंग को बचाया जा सके। स्वामी ने आरोप लगाया कि होर्डिंग मामले में एक पूरा कॉकस काम कर रहा है। इसमें अधिकारी कर्मचारी मिले हुए हैं।

परमिशन 20 की थी, 5 दूसरी जगह लगाए
श्रीगंगानगर चाैराहे के पास 20 हाेर्डिंग की परमीशन है लेकिन यहां 15 हाेर्डिंग ही लगाए। पांच काेठारी हाॅस्पिटल के पास लगा दिए। पार्षदाें का कहना है कि शर्ताें में स्पष्ट उल्लेख है कि स्थान पर तय संख्या के अनुसार ही हाेर्डिंग लगाए जाएंगे। अगर कम लगेंगे ताे उसके बदले दूसरी साइड पर नहीं लगा सकते। हालांकि निगम प्रशासन ने हाेर्डिंग दूसरी साइट पर लगाने काे मंजूरी दे दी है।

हाेर्डिंग्स का जाेन वाइज सर्वे कराया जाएगा। अगर काेई वैध हाेर्डिंग टूटा है ताे उसे भी कंसीडर किया जाएगा लेकिन अगर अवैध हैं ताे काेई हाेर्डिंग नहीं बचेगा। पैसे नहीं जमा किए ताे हाेर्डिंग अवैध करार दिए जाएंगे। इस मामले में निगम के अधिकारियाें भूमिका की भी जांच हाेगी।-अभिषेक खन्ना, कमिश्नर, बीएमसी

खबरें और भी हैं...