कार्रवाई / गाेली मारकर हिरण का शिकार, पिता व पुत्र से मांस बरामद, शिकारी फरार

X

  • लिखमीसर उत्तरादा की घटना, वन विभाग ने दर्ज किया मुकदमा

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:37 AM IST

बीकानेर. श्रीडूंगरगढ़ तहसील के लिखमीसर उत्तरादा गांव में हिरणाें काे गाेली मारकर शिकार करने की घटना सामने आई है। वन विभाग की टीम ने मांस बरामद कर पिता-पुत्र काे गिरफ्तार किया है, जबकि मुख्य शिकारी की तलाश की जा रही है। रविवार की रात काे श्रीडूंगरगढ़ के लिखमीसर उत्तरादा गांव में शिकारियाें ने गाेली मारकर हिरणाें का शिकार किया और बाइक पर डालकर फरार हाे गए। ग्रामीणाें की सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम माैके पर पहुंची।

श्रीडूंगरगढ़ के सहायक वन संरक्षक इकबालसिंह ने बताया कि साेमवार काे सुबह टीम ने गांव में गाेरधनराम नायक के घर दबिश दी ताे वहां दाे किलाे हिरण का मांस बरामद हाे गया। माैके से उसके पुत्र काे पकड़ा गया, जिसे पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया। मांस खरीदने में उसे पिता की भूमिका सामने आई ताे खाेजबीन कर उसे भी गिरफ्तार कर लिया।

दाेनाें आरोपियों काे काेर्ट में पेश कर एक दिन के रिमांड पर लिया गया है। रतनलाल नायक की ओर से वन विभाग काे दी गई रिपाेर्ट में ओमप्रकाश बावरी, रुघाराम पर हिरण शिकार का आराेप लगाया है। जीव रक्षा संस्था के अध्यक्ष मोखराम धारणिया ने रोष जताते हुए शिकारियों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना