पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिक्षा विभाग:पिछले सत्र में 9वीं कक्षा की 3.50 लाख छात्राओं को नहीं मिली साइकिल

बीकानेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना ने साइकिल पर लगाया ब्रेक

कोविड-19 ने बच्चों की पढ़ाई के साथ-साथ राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं पर भी ब्रेक लगा दिया है। कोरोना संक्रमण के चलते पिछले साल स्कूलों में छात्र-छात्राओं की ऑफलाइन पढ़ाई नहीं हुई। जिसका खामियाजा 9वी कक्षा की 3.50 छात्राओं को भुगतना पड़ा है। इन छात्राओं को अभी तक साईकिल का वितरण नहीं हुआ है।

उधर, स्कूलों में नया सत्र 2021-22 भी शुरू हो चुका है। प्रत्येक वर्ष सितंबर और अक्टूबर माह में सरकारी स्कूल में पढ़ने वाली 9वी कक्षा की छात्राओं को साइकिल का वितरण कर दिया जाता है। लेकिन कोविड-19 के चलते इस बार टेंडर प्रक्रिया नहीं होने के कारण बैकलॉक बढ़ेगा। शिक्षा विभाग को एक साथ दोनों सत्रों की पात्र छात्राओं को साइकिल का वितरण करना पड़ सकता है।

अप्रैल माह में एक दिवसीय दौरे पर बीकानेर आए शिक्षा मंत्री डोटासरा ने भी छात्राओं को जल्द साइकिल का आश्वासन दिया था लेकिन साइकिल वितरण के लिए अभी तक प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है। राज्य की 3.50 लाख छात्राओं को साइकिल वितरण के लिए करीब ₹125 करोड़ के बजट की जरूरत है।

पिछले सत्र और इस सत्र की पात्र छात्राओं को एक साथ साइकिल का वितरण होगा।
सौरभ स्वामी, निदेशक, माध्यमिक शिक्षा

कल्याणकारी योजनाओं की क्रियान्वित में सरकार को पीछे नहीं हटना चाहिए। सरकार को चाहिए कि जल्द ही पात्र छात्राओं को साइकिल का वितरण करें।
रवि आचार्य, प्रदेश मंत्री, शिक्षक संघ राष्ट्रीय

सरकारी स्कूलों में नामांकन बढ़ोतरी के लिए राज्य सरकार ने कई योजनाएं संचालित कर रखी है। बालिकाओं को समय पर इस योजना का लाभ मिलना चाहिए।
महेंद्र पांडे, महामंत्री, शिक्षक संघ

खबरें और भी हैं...