एमसीएच:डेंगू से पीड़ित बच्चों के बेड बढ़ाए, अब नहीं होगी परेशानी

बीकानेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

डेंगू मरीजों को भर्ती करने के लिए बनाई गई एमसीएच हॉस्पिटल में अब डेंगू पीडि़त बच्चों और उनके परिजनों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। यहां बच्चा वार्ड में अब बेड की संख्या 20 से बढ़ाकर 40 कर दी है। दैनिक भास्कर में 19 अक्टूबर को पीबीएम के रिकॉर्ड में डेंगू के 4 केस; हकीकत...55 रोगी भर्ती हुए, एमसीएच के वार्ड भी फुल, 20 बेड पर 31 बच्चे शीर्षक से प्रकाशित खबर के बाद हरकत में आए हैल्थ डिपार्टमेंट ने एमसीएच के बच्चा वार्ड में 20 बेड बढ़ा दिए। अब यहां 40 बेड हो चुके हैं।

दैनिक भास्कर में प्रकाशित खबर में बताया गया था कि किस प्रकार 20 बेड के बच्चा वार्ड में 31 बच्चे भर्ती होने से एक बेड पर दो-दो बच्चों का इलाज किया जा रहा है। इससे न केवल संबंधित मरीज परेशान होता था, बल्कि उनके परिजनों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता था।

डेंगू के मरीज घबराएं नहीं, इलाज करवाएं : मेडिकल कॉलेज के प्रिंसीपल डॉ. मुकेश आर्य ने बताया कि पीबीएम हॉस्पिटल में भर्ती होने वाले डेंगू और वायरल पीडि़त मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो, इसे ध्यान में रखते हुए एमसीएच के बच्चा वार्ड में 20 बेड बढ़ाए गए हैं। यहां पुरुष और महिला वार्डों में भी बेड की कमी नहीं आने दी जाएगी। आर्य ने बताया कि डेंगू और वायरल बुखार आने पर घबराएं नहीं, इसका तुरंत इलाज शुरू कर दें। आर्य ने बताया कि मरीजों की सुविधा के लिए हॉस्पिटल के डॉक्टर 24 घंटे सेवाएं दे रहे हैं।

खबरें और भी हैं...