11 दिन बाद खुलासा / बुजुर्ग पड़ोसी ने ही पत्नी से नाजायज संबंध रखने पर मांगीलाल की हत्या कर दी थी, गिरफ्तार

आरोपी बुजुर्ग आरोपी बुजुर्ग
X
आरोपी बुजुर्गआरोपी बुजुर्ग

  • सुरधना चाैहानान गांव की राेही में वारदात , ऊंटगाड़े की रस्सी से बंधा मिला था शव, कुल्हाड़ी से मारा था

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 07:20 AM IST

बीकानेर. सुरधना चाैहानान गांव की राेही में ऊंटगाड़े की रस्सी से बंधे मिले शव की हत्या का राज खुल गया है। उसकी ढाणी के पास रहने वाले 62 साल के बुजुर्ग ने पत्नी से अवैध संबंध रखने के कारण कुल्हाड़ी से वार कर हत्या की वारदात काे अंजाम दिया था। पुलिस ने बुजुर्ग काे गिरफ्तार कर लिया है।
एएसपी ग्रामीण सुनील कुमार ने बताया कि 19 जून की रात काे करीब 9 बजे सुरधना चाैहानान निवासी मांगीलाल मेघवाल (50) की धारधार हथियार से वार कर हत्या कर दी गई थी। उसका शव राेही में ऊंटगाड़े की रस्सी से बंधा मिला था। वारदात के बाद अभियुक्त फरार हाे गया था।

पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू की और एक टीम गठित की जिसने सुराग जुटाए ताे सामने आया कि मांगीलाल के पड़ाेस की ढाणी में रहने वाले लाभूराम मेघवाल की 58 वर्षीय पत्नी से नाजायज संबंध थे। शक हाेने पर उसकी तलाश शुरू की गई और मंगलवार काे उसे बीकानेर में दबाेच लिया।

अभियुक्त ने पूछताछ में खुलासा किया कि पिछले 15 साल से मांगीलाल के उसकी पत्नी से संबंध थे। इसी बात पर अक्सर उससे झगड़ा हाेता था। 19 जून की रात काे वह सुरधना गांव से ऊंटगाड़े पर अपने घर जा रहा था। रास्ते में उसे राेका और कुल्हाड़ी से वार कर उसकी हत्या कर दी।

हत्या के बाद शव के पैर ऊंटगाड़े की रस्सी से बांधे और रस्सी काे ऊंटगाड़े से बांधकर फरार हाे गया। अभियुक्त से उसका और मृतक मांगीलाल के माेबाइल बरामद किए गए हैं। उसे बुधवार काे काेर्ट में पेश कर हत्या के दाैरान काम में लिया गया हथियार बरामद किया जाएगा।
गांव में दूध देकर ढाणी लाैट रहा था मांगीलाल, रास्ते में कर दी थी हत्या

नापासर थाना क्षेत्र में किलचू निवासी अभियुक्त लाभूराम नायक और सुरधना चाैहानान निवासी मांगीलाल मेघवाल के खेत दाेनाें गांव की सीमाओं पर पास-पास ही हैं। लाभूराम काे पता था कि मांगीलाल राेज रात काे ऊंटगाड़े पर गांव में दूध देने जाता है। उसने मारने की याेजना बना ली और 19 जून की रात काे मांगीलाल दूध देकर वापस अपनी ढाणी लाैट रहा था। लाभूराम ने उसे राेककर हत्या कर दी।
एफआईआर में नामजद थे तीन लाेग, हत्यारा काेई और ही निकला

हत्या की वारदात के बाद मांगीलाल के भतीजे राजूराम ने देशनाेक पुलिस थाने में सुरधना चाैहानान गांव के ही अमानाराम प्रजापत, उसके पुत्र लेखराम व केसुराम सहित दाे अन्य के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया था। पुलिस ने इन लाेगाें से पूछताछ की। लेकिन, हत्या का खुलासा नहीं हाे पाया। बाद में शक की सुंई लाभूराम पर गई और उसे पकड़ा गया ताे हकीकत सामने आ गई।

मामले की जांच सीओ नाेखा नेमसिंह ने की। अभियुक्त का पता लगाने में कम्प्यूटर सैल के हेड कांस्टेबल दीपक कुमार, पांचू थाना एसएचओ जसवीर कुमार, हेड कांस्टेबल ओमप्रकाश, कांस्टेबल राकेश, शिवसिंह, शेरसिंह, सांवरमल, जेठूसिंह की विशेष भूमिका रही।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना