पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Bikaner
  • Mega Food Park To Be Built In Palana, 25 Thousand Will Get Employment; Demand For Bikaner Pending For Years Has Been Fulfilled

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय ने दी मंजूरी:पलाना में बनेगा मेगा फूड पार्क, 25 हजार को रोजगार मिलेगा; वर्षों से लंबित बीकानेर की मांग हुई पूरी

बीकानेर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
200-250 करोड़ खर्च होंगे मेगा फूड पार्क पर - Dainik Bhaskar
200-250 करोड़ खर्च होंगे मेगा फूड पार्क पर

बीकानेर में फूड पार्क लगाने की यहां के व्यापारियों की वर्षों से लंबित मांग पूरी हो गई है। पलाना गांव के पास मेगा फूड पार्क बनेगा, जिसकी स्वीकृति खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय, नई दिल्ली की ओर से जारी हो चुकी है। इससे बीकानेर में हजारों रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। फूड प्रोसेसिंग यूनिटें यहां लगेगी तो बीकानेर जिले की आर्थिक स्थिति भी मजबूत होगी।

खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय के उप सचिव परोदीप कुमार मोंडल ने श्रीराम मेगा फूड पार्क प्राइवेट लिमिटेड को पलाना में मेगा फूड पार्क बनाने की अनुमति दी है। इस संबंध में केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पूर्व में पत्र भी लिखा था। केंद्रीय मंत्री ने बीकानेर के लिए की गई डिमांड को पूरा किया है। मेगा फूड पार्क के लिए कम से कम 50 हेक्टेयर जमीन पर बनेगा। इसके निर्माण में केंद्र सरकार 50 करोड़ रुपए का अनुदान देगी। अन्य खर्च संबंधित कंपनी को करने होंगे।

इसलिए जरूरत पड़ी फूड पार्क की : फूड पार्क का उद्देश्य किसानों, प्रोसिसिंग इंडस्ट्री तथा खुदरा विक्रेताओं को एक साथ लाना है। ताकि कृषि उत्पादों को एक तंत्र के माध्यम से जोड़ा जा सके। मेगा फूड पार्कों के तहत मुख्यतः कृषि उत्पादों की कीमतों में वृद्धि करने, खाद्य पदार्थों की बर्बादी रोकने, किसानों की आय बढ़ाने तथा ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसर उपलब्ध करने पर जोर दिया जाएगा। खाद्य पदार्थों के प्रसंस्करण को 6 प्रतिशत से 20 प्रतिशत तक बढ़ाना है। विश्व के खाद्य पदार्थ उद्योग में भारत की हिस्सेदारी को 1.5 प्रतिशत से बढ़ाकर 3 प्रतिशत तक करना है।

200-250 करोड़ खर्च होंगे मेगा फूड पार्क पर
इस पार्क में अनुमानित रूप से 20-25 मेजर फूड प्रोेसेसिंग यूनिट को विकसित किया जाएगा। इसकी अनुमानित लागत 200 से 250 करोड़ रुपए है। इन यूनिटों से 20 से 25 हजार लोगों को प्रत्यक्ष -अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा।

केंद्रीय मंत्री मेघवाल बोले- मोठ, बाजरा, ग्वार व मूंगफली की अब बीकानेर में ही प्रोसेसिंग होगी
केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने भास्कर को बताया कि बीकानेर में मोठ, बाजरा, ग्वार व मूंगफली का उत्पादन बहुतायत में होता है। बीकानेर के निवासी इन कृषि उत्पादों के प्रसंस्करण से बीकानेरी भुजिया का उत्पादन कर पूरे विश्व में नाम कमा रहे हैं। यहां पर 1500 से अधिक खाद्य आधारित इकाइयां संचालित हो रही है जो डेढ़ लाख से अधिक लोगों को रोजगार दे रही है। बीकानेर संभाग में किन्नू, अनार, खजूर, कैर, सांगरी जैसे उत्पाद भी बहुत होते हैं। इसके बावजूद अधिकांश कच्चा माल राज्य से बाहर जाता है। अब सभी एक जगह रहेगा तो यहां के किसानों को फसलों की अच्छी कीमत मिलेगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें